Shivraj Cabinet

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में दोबारा लॉकडाउन (Lockdown) नही लगाया जाएगा,  यह घोषणा आज शुक्रवार को अधिकारियों से बैठक के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) की है। इसके साथ ही सीएम ने सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल (Viral) हो रहे वीडियो (Video) का भी खंडन किया है।

दरअसल, दरअसल, मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना केसेस को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने आज दोपहर में आला अधिकारियों (Officers) की बैठक बुलाई थी, जिसमें सभी जिलों की रिपोर्ट मांगी गई । बैठक में सीएम शिवराज ने कहा कि फिलहाल प्रदेश में कही भी लॉकडाउन नही होगा। जिन जिलों में तेजी से कोरोना फैल रहा है वहाँ रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रि कालीन कर्फ्यू (Night Curfew) रहेगा। जिलों के नाम जल्दी ही तय होंगें ।शादी समारोह मे उपस्थिति पर शनिवार को क्राईसिस मैनेजमेन्ट की बैठक मे निर्णय होगा। प्रदेशभर में मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन किया जाए।बैठक में कोरोना प्रोटोकॉल ,मास्क अनिवार्यता का सख्ती से पालन सख्ती से करवाने के निर्देश दिए गए है।वही सिनेमा हॉल अभी 50 प्रतिशत के साथ ही खुलेंगे । शनिवार से पुलिस (MP Police) विशेष मास्क (Mask) अभियान चलाएगी।

वही बैठक में मुख्यमंत्री चौहान ने सभी जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक बुलाकर विचार विमर्श के निर्देश दिए है। साथ ही कहा कि ट्रांसपोर्ट नहीं रुकेगा। आवाजाही आवश्यक वस्तुओं की जैसी होती चली आ रही है यथावत रहेगी । अर्थव्यवस्था प्रभावित ना हो और कोरोना न फैले इस दृष्टि से लगातार जागरूकता प्रयास होते रहे ।औद्योगिक संगठनों पर भी कोई बंदिश नहीं ,श्रमिकों के आने जाने पर कोई रोक नहीं।

वायरल वीडियो का किया खंडन

वही सीएमओ मध्यप्रदेश (CMO Madhya Pradesh) द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि शासन द्वारा भोपाल और जबलपुर में कर्फ्यू लगाने संबंधी कोई निर्णय नहीं लिया गया है। कतिपय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का बयान वायरल हो रहा है, जो वर्तमान परिप्रेक्ष्य में पूर्ण रूप से अप्रासंगिक है।

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जबलपुर और भोपाल में कर्फ्यू लगाने की बात कहते नजर आ रहे है, जिसके चलते भ्रम की स्थिति पनपी थी, लेकिन शासन द्वारा बयान जारी कर इसका खंडन किया गया है और कहा गया है कि सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बाइट वायरल हो रही है जो कि काफ़ी पुरानी है। कुछ शरारती तत्वों द्वारा पुरानी बाइट वायरल कर के अफवाह फैलाई जा रही है।

MP में 2 लाख के करीब पहुंची कोरोना संक्रमितों की संख्या

गौरतलब है कि नवंबर आते ही एक बार फिर कोरोना की रफ्तार तेज हो चली है। पिछले 24 घंटे में 1363 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार नए मरीजों की पुष्टि होने के बाद अब प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1 लाख 88 हजार 18 हो गई। वही 14 मरीजों की उपचार के दौरान मौत हो गई, मध्यप्रदेश में अब तक 3129 मरीजों की मौत हो चुकी है।कोरोना संक्रमण की ग्रोथ रेट एक तरफ जहां पूरे प्रदेश में 5 फ़ीसदी पर है वही भोपाल (Bhopal) में यह 10 फीसदी को छू रही है। गुरुवार को भोपाल में कोरोना के कुल 3400 सैंपल जांचे गए, इनमें से 381 सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जबकि नवंबर (November) के पहले अक्टूबर (October) के महीने में दर 2 से 3 फ़ीसदी पर चल रही थी। अचानक आए इस उछाल में लोगों की लापरवाही को सबसे बड़ा कारण बताया जा रहा है।