कांग्रेस को तोड़फोड़ का डर, भोपाल भेजे जा सकते हैं महाराष्ट्र के विधायक

भोपाल। महाराष्ट्र में रातोंरात हुए सियासी उलटफेर के बाद अब कांग्रेस में भी तोड़फोड़ की आशंका बढ़ गई है। जिसके चलते कांग्रेस अपने विधायकों को महाराष्ट्र से शिफ्ट कर सकती है। सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र के कांग्रेसी विधायकों को भोपाल लाया जा सकता है। फ्लोर टेस्ट तक सभी विधायकों को यहां इकठ्ठा रखा जा  सकता है| 

दरअसल महाराष्ट्र में तेजी से बदलते सियासी घटनाक्रम से सियासी उबाल आ गया है। भाजपा के देवेंद्र फडणवीस ने सीएम पद और उप मुख्यमंत्री के तौर पर अजीत पवार के शपथ लेने के बाद अब सबकी नजर फ्लोर टेस्ट पर टिकी है। कांग्रेस लगातार भाजपा पर जोड़तोड़ के आरोप लगाती रही। इसको लेकर अब कांग्रेस को डर सता रहा है कि भाजपा के संपर्क में कोई विधायक न आ जाये। खबर है कि महाराष्ट्र से कांग्रेस के सभी विधायकों को भोपाल भेजा जा रहा है । बताया जा रहा कि इस संबंध में पार्टी ने सीएम कमलनाथ से बात की है जिसके बाद यहां विधायकों के रहने के इंतजाम करने की तैयारी शुरू हो गई है। इसके पहले भी महाराष्ट्र में चुनाव परिणाम आने के बाद चल रहे सियासी घमासान के बाद कांग्रेस ने अपने विधायकों को राजस्थान भेज दिया था इसके बाद उन्हें वापस वापस बुला लिया गया था। 

अब देखना होगा कि अगर महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक भोपाल आते हैं तो उन्हें यहां कहां ठहराया जाता है, संभावना है कि उन्हें अलग-अलग स्थानों पर रखा जा सकता है जिससे कि किसी प्रकार की परिस्थिति ना बने। 30 नवंबर तक फडणवीस को बहुमत साबित करना है। फ्लोर टेस्ट से पहले विधायकों का मध्यप्रदेश में रहना मध्यप्रदेश की राजनीति को भी प्रभावित कर सकता है।