नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। मोदी कैबिनेट विस्तार के एक दिन बाद गुरूवार शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी नई टीम के साथ वर्चुअल बैठक की। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस बैठक में कृषि और स्वास्थ्य क्षेत्र सहित कई अहम फैसले लिए गए।

शिवराज, नरोत्तम और कमलनाथ का फोटो जब हुआ वायरल तो…

बैठक के बाद पीएम मोदी ने खुद ट्वीट करते हुए कहा “कोरोना के खिलाफ लड़ाई को और मजबूत बनाने के लिए 23 हजार करोड़ रुपये से अधिक के एक नए पैकेज को मंजूरी दी गई है। इसके तहत देश के सभी जिलों में पीडियाट्रिक केयर यूनिट से लेकर आईसीयू बेड, ऑक्सीजन स्टोरेज, एंबुलेंस और दवाओं जैसे जरूरी इंतजाम किए जाएंगे।”

इसी के साथ कैबिनेट बैठक में कृषि को लेकर भी बड़े फैसले लिए गए हैं। पीएम ने इस बारे में ट्वीट करते हुए कहा “आज कैबिनेट की बैठक में कृषि और किसानों के कल्याण को लेकर महत्वपूर्ण फैसले किए गए हैं। मंडियों को सशक्त करने के लिए कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड के उपयोग के साथ-साथ लोन पर ब्याज में छूट की व्यवस्था भी की गई है।”

कैबिनेट बैठक के बाद केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि ने कहा कि सरकार मंडियों का सशक्तिकरण चाहती है और  किसानों को मंडी के जरिए एक लाख करोड़ रुपये दिए जाएंगे। वहीं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने किसानों से नए कृषि बिल को लेकर चलाए जा रहे आंदोलन को समाप्त करने की अपील की। उन्होने कहा कि किसानों का हित मोदी सरकार के लिए प्राथमिकता है। उन्होने कहा कि एपीएमसी मंडियों को मजबूत किया जाएगा तथा और अधिक संसाधन प्रदान किए जाएंगे।