मिलिये Super Woman किरण दांबले से, ब्रेन में ब्लड क्लॉट से लेकर वर्ल्ड बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप तक का सफर

हैदराबाद, डेस्क रिपोर्ट। असल हीरो कौन होते हैं…वो जो फिल्मों में एक्ट करते हैं या वो जो असल जिंदगी के संघर्षों से उबरकर मिसाल कायम करते हैं। हम सभी कभी न कभी किसी ऐसे शख्स से जरूर मिले होंगे, जिसकी कहानी ने हमें प्रेरित किया और आगे बढ़ने का साहस दिया। आईये आज हम आपको मिलाने जा रहे हैं ऐसी ही एक कमाल की शख्सियत  से।

ये हैं हैदराबाद की किरण दांबले (Kiran Damble) जो अरसे तक हाउस वाइफ रही। शादी के 10 साल बाद उनके ब्रेन में ब्लड क्लॉट डायग्नोस हुआ। दो साल इस बीमारी से जूझते हुए 33 साल की उम्र में उनका वजन 74 किलो हो गया। थोड़ा ठीक होने के बाद किरण दांबले ने जिम जाना शुरू किया। इससे पहले उन्होने कभी जिम में कदम भी नहीं रखा था। गृहिणी रहते हुए उन्हें घर से ज्यादा बाहर निकलने की इजाज़त भी नहीं थी। लेकिन अपनी हिम्मत के बल पर उन्होने कुछ नया करने की ठानी। दो बच्चों की मां होते हुए अपने लिए समय निकालना कठिन था इसलिए वो सुबह 4 बजे उठकर 5 बजे जिम पहुंच जाती थीं। यहां से उनकी कामयाबी की कहानी शुरू हुई और 7 महीने में उन्होने 24 किलो वजन कम किया।

बात यहीं खत्म नहीं हुई..इसके बाद वो खुद एक फिटनेस ट्रेनर बन गईं। उन्होने अपना जिम खोला और आज वो साउथ की मशहूर अभिनेत्री अनुष्का शेट्टी सहित, तमन्ना भाटिया सहित एस.एस.राजमौली, प्रकाश राज के साथ कई सेलेब्स की पर्सनल ट्रेनल हैं। साल 2012 में उन्होने बॉडी बिल्डिंग बनाने का सोचा और फिर 2013 में बुडापेस्ट में किरण ने वर्ल्ड बॉडीबिल्डिंग चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व भी किया। कहानी यहां खत्म नहीं होती है…42 साल की उम्र में वो एक डीजे बन गईं और आज वो दुनियाभर का संगीत भी प्ले कर रही हैं। इस तरह इस जुझारू महिला ने न सिर्फ अपनी बीमारी को हराया बल्कि जिंदगी में वो मुकाम भी हासिल किया, जो सामान्य लोगों के लिए सोचना भी मुश्किल है। आज वो हजारों लोगों के लिए प्रेरणा है और उनकी कहानी से हम भी कई सबक ले सकते हैं।