MP को करोड़ों की सौगात: सीएम शिवराज बोले-यहां बनेंगे बिजली हब, खातों में भी राशि ट्रांसफर

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  मेरी स्व-सहायता समूह की बहनों! इसी मेहनत से काम करतीं रहो।मध्यप्रदेश सरकार समूहों के सशक्तिकरण का हर प्रयास कर रही है। हमने तय किया है कि स्कूल की ड्रेस बनाने का काम अब ठेकेदार को नहीं बल्कि स्व-सहायता समूह की बहनों को मिलेगा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। खंडवा उपचुनाव (Khandwa By-election) से पहले सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने आज सोमवार झिरन्या से संबल योजना के तहत प्रदेश के 14 हजार बहनों और भाइयों के खातों में 321 करोड़ की राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से जमा की और कहा कि झिरन्या उद्वहन सिंचाई परियोजना 1,400 करोड़ रुपये की लागत से पूर्ण किया जायेगा। खंडवा-खरगोन इलाके को बिजली का हब (Electricity Hub) बनाएंगे। खरगोन के झिरन्या में विद्युत उपकेन्द्रों का भूमिपूजन-लोकार्पण व संबल अनुग्रह राशि का वितरण किया।

यह भी पढ़े.. MP Weather : मप्र के इन जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश का अलर्ट, जानें पूरे हफ्ते का हाल

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि झिरन्या उद्वहन सिंचाई परियोजना में प्रारंभिक अनुमान के तौर पर 1400 करोड़ रुपये का खर्च है। लेकिन पैसों की कमी आड़े नहीं आएगी। इस दिशा में हम तेजी से कार्य कर रहे हैं ।प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत झिरन्या ब्लॉक में 6 हजार मकान बनाए जा रहे हैं। जिनके नाम छूट गए हैं उनका फिर से सर्वे करवाकर उन्हें योजना का लाभ दिया जाएगाहम “मुख्यमंत्री भू-अधिकार” योजना बना रहे हैं। एक घर में अगर कई परिवार रह रहे हैं तो हर परिवार को भूखंड देकर जमीन के टुकड़े का मालिक बनाएंगे।और बाद में उसी जमीन पर मकान बनाने का अभियान भी चलाएंगे।

यह भी पढ़े.. Job Alert 2021 : MP में इन पदों पर निकली है भर्ती, मोटी सैलरी, जल्द करें एप्लाई

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  मेरी स्व-सहायता समूह की बहनों! इसी मेहनत से काम करतीं रहो।मध्यप्रदेश सरकार समूहों के सशक्तिकरण का हर प्रयास कर रही है। हमने तय किया है कि स्कूल की ड्रेस (School Dress) बनाने का काम अब ठेकेदार को नहीं बल्कि स्व-सहायता समूह की बहनों को मिलेगा। 89 आदिवासी ब्लॉक में 15 नवंबर से घर-घर राशन पहुंचाने का कार्य किया जाएगा। ताकि राशन बाहर लेने नहीं जाना पड़े।जनजाति भाई-बहनों को सामुदायिक वन प्रबंधन का अधिकार देने का फैसला किया है।सिकलसेल अनीमिया बीमारी (sickle cell anemia disease) का इलाज फ्री में किया जाएगा। इसके लिए अभियान चलाया जाएगा।प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर आज 325 करोड़ के बिजली के कार्य शुरु किये हैं। इस पूरे इलाके को बिजली का हब बनाएंगे ।

यहां देखें कहां क्या मिला

  • खरगोन जिले के झिरन्या से मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना एवं निर्माण श्रमिकों के लिए अनुग्रह सहायता योजना में 14 हजार 475 श्रमिकों के खाते में 321 करोड़ 35 लाख रूपये की अनुग्रह सहायता राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से अंतरित की।
  • जन-कल्याण और सुराज अभियान के तहत 16 विद्युत उप-केन्द्रों का लोकार्पण और 13 उप केन्द्रों का भूमि-पूजन की, इनकी कुल लागत 321 करोड़ 80 लाख रुपये है।
  • मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना(Chief Minister Jan-Kalyan Sambal Yojana) में असंगठित क्षेत्र के 16 हजार 844 श्रमिक परिवारों को मृत्यु सहायता के रूप में 379 करोड़ रूपये की अनुग्रह राशि सिंगल से अंतरित की गई।
  • 14 हजार 475 श्रमिकों के खाते में 321 करोड़ 35 लाख रूपये की अनुग्रह सहायता राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से अंतरित की।
  •  अंतरित की जाने वाली राशि में संबल योजना के 13 हजार 769 प्रकरणों में 307 करोड़ 23 लाख रूपये तथा निर्माण श्रमिकों को अनुग्रह सहायता राशि के 706 प्रकरणों में 14 करोड़ 12 लाख रूपये की राशि शामिल हैं।
  • लोकार्पित होने वाले उप-केन्द्रों से 15 जिलों के 2 लाख 92 हजार से अधिक उपभोक्ताओं को अधिक गुणवत्तापूर्ण एवं निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित होगी।
  • लोकार्पित होने वाले उप-केन्द्रों में एक उप केन्द्र 220 के.व्ही. वोल्टेज, 6 उप-केन्द्र 132 के.व्ही. वोल्टेज और 9 उप केन्द्र 35 के.व्ही. वोल्टेज के हैं। इनकी कुल लागत 287 करोड़ 33 लाख रुपये है। जिन 33/11 के.व्ही के 13 उप-केन्द्रों का भूमि-पूजन होगा, उनकी कुल लागत 34 करोड़ 47 लाख रुपये है। इनसे भविष्य में 11 जिलों के 42 हजार से ज्यादा उपभोक्ता लाभांवित होंगे।

एक नजर लोकार्पण और भूमि-पूजन पर

  •  खरगोन जिले के झिरन्या, आगर-मालवा जिले के नलखेड़ा, भोपाल के पत्रकार कॉलोनी एवं महाबड़िया, निवाड़ी के निवाड़ी, सिवनी के घंसौर, राजगढ़ के माचलपुर, शहडोल के कनाड़ी खुर्द, डिण्डोरी के करोंदी, सीधी के मवई, रीवा के कांटी, अशोकनगर के रातीखेड़ा, शिवपुरी के छर्ज, देवास के पटाड़ी, मंदसौर के कचारिया और नीमच जिले के भड़भड़िया में नव-निर्मित विद्युत उप केन्द्र का लोकार्पण किया।
  • मण्डला जिले के भावल, नरसिंहपुर के बहोरीपार, छिंदवाड़ा के हिरदागढ़, छतरपुर के इमलिया, खण्डवा के गुलई, खरगोन के सिरवेल और मोहनपुरा, शाजापुर के मकोड़ी, अलीराजपुर के करजवानी, उज्जैन के असावता और सगवाली, रतलाम के अमलेटा और धार जिले के पड़ियाल में विद्युत उप-केन्द्र के निर्माण के लिये भूमि-पूजन किया।