प्रज्ञा के लिए यह क्या कह गए मंत्री जीतू पटवारी

minister-jitu-patwari-controversial-comment-on-pragya-and-uma-bharti

भोपाल| लोकसभा चुनाव को लेकर मध्य प्रदेश में सियासी पारा उछाल मार रहा है और राजनीतिक हमले भी तेज हो गए हैं| अब मध्य प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा और खेल मंत्री जीतू पटवारी ने विवादास्पद ट्वीट किया है, जिस पर बवाल खड़ा हो गया है|  सोमवार को भोपाल में केंद्रीय मंत्री उमा भारती और भोपाल से भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के मिलने पर ट्वीट करते हुए जीतू पटवारी ने आपत्तिजनक टिप्पणी की है|

जीतू पटवारी ने ट्वीट कर लिखा है “दो राजनीतिक संतों का विलाप! संत समाज को सकारात्मकता देता है जीवन को खुशी खुशी जीने की दिशा देता है। दो राजनीतिक संतों का राजनीतिक वासना के लिए विलाप, भोपाल की जनता तय करें”। मंत्री जीतू पटवारी की इस टिप्पणी पर बवाल मच गया है। भाजपा ने इसे महिलाओं के प्रति कांग्रेस की सोच का प्रतीक बताया है।

दरअसल, सोमवार को केंद्रीय मंत्री उमा भारती और प्रज्ञा ठाकुर की मुलाक़ात हुई और इस दौरान प्रज्ञा भावुक होकर उमा के गले लग कर रोने लगी| प्रज्ञा और उमा के मिलान को लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं गर्म है| पिछले दिनों जिस तरह उमा ने प्रज्ञा से तुलना में खुद को छोटा मानते हुए साध्वी को असाधारण संत बताया था| इस बयान को उनकी नाराजगी समझा जा रहा था| इस बीच उमा भारती से मिलने प्रज्ञा उनके बंगले पर पहुंची| उनकी मुलाक़ात को उमा की नाराजगी से जोड़कर भी देखा जा रहा था| हालाँकि उमा भारती ने स्पष्ट किया है कि उनकी मुलाक़ात सामान्य मुलाक़ात थी और कोई नाराजगी नहीं है, वहीं उनके बयान को लेकर भी उन्होंने स्पष्टीकरण दिया है|