कर्जमाफी पर विधानसभा में हंगामा, कृषि मंत्री बोले- कांग्रेस ने किया था वादा, उन्हीं से मांगिये जवाब

किसान कर्ज को लेकर विधानसभा में चर्चा चल रही थी। ऐसे में जब कांग्रेस ने राज्य सरकार से कहा कि सरकार किसान कर्जमाफी के मुद्दे पर सीधे-सीधे कोई जवाब नहीं दे रही है। तो इस बात को लेकर सदन मेंं हंगामा मच गया।

कमल पटेल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। विधानसभा में शुक्रवार को किसान कर्ज माफी को लेकर बवाल मच गया। जब विवाद ज्यादा बढ़ गया तो राज्य के कृषि मंत्री कमल पटेल (kamal patel) ने कहा कि किसानों (Farmer’s) की कर्जमाफी का वादा हमारी पार्टी ने नहीं किया था, कर्जमाफी का वादा कांग्रेस (Congress) ने किया था, तो जवाब भी उन्हीं से मांगो। दरअसल सदन में चर्चा के दौरान कांग्रेस ने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य सरकार किसान कर्जमाफी के मुद्दे पर सीधे-सीधे कोई जवाब नहीं दे रही है। फिर इस बात के चलते सदन में भयंकर हंगामा होने लगा और कार्यवाही दस मिनट के लिए स्थगित करनी पड़ी।

ये भी पढ़े- पत्नी करती थी किसी और से मोबाइल पर बात, पटरी पर जा लेटा पति

इसके बाद जब सदन की कार्यवाही फिर से शुरू हुई तो जवाब से असंतुष्ट कांग्रेस विधायकों ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार ये जवाब तक नहीं दे रही है कि यह योजना रहेगी भी या नहीं। क्योंकि खुद सरकार विधानसभा में स्वीकार कर चुकी है कि 26 लाख किसानों का कर्जा (Loan) माफ हो चुका है और बचे हुए 16 लाख  किसानों  की कर्ज माफी होना बाकी है।

इस पर कृषि मंत्री कमल पटेल ने इस पर जवाब देते हुए कहा, “कर्जमाफी का सवाल हमारा नहीं है, कांग्रेस का है। कांग्रेस से पूछिए उन्होंने क्यों नहीं किया? हमने कोई वादा नहीं किया था। कांग्रेस और कमलनाथ ने मिलकर को-ऑपरेटिव सोसायटी को बर्बाद कर दिया। किसानों को कर्जा उनके ही खाते से माफ कराया जो थोड़ा बहुत कर्जा माफ कराया।”

ये भी पढ़े-MPPEB: कृषि विकास अधिकारी भर्ती परीक्षा 2020 को लेकर बड़ी खबर, जाने कब जारी होगा Result