मुरैना जहरीली शराब कांड को लेकर गृह मंत्री ने जताया अफसोस,कहा- दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

सीधी में हुए गैंगरेप को लेकर राहुल गांधी द्वारा किए गए पर पलटवार करते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध कहीं भी हो दुखद और पीड़ादायक होता है। लेकिन इटली में बैठकर ट्विटर पर चिंता जता रहे राहुल गांधी जी को ऐसे मामलों में सिर्फ मध्यप्रदेश ही नजर आ रहा है, राजस्थान और महाराष्ट्र क्यों नहीं? वे भले ही दूर से देखें लेकिन कम से कम शऊर से तो देखें।

भोपाल,डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के मुरैना (Morena) में आज जहरीली शराब (Poisonous Liquor) पीने के चलते 11 लोगों की मौत (Death) हो गई है, जिसके बाद से इस मुद्दे को लेकर सियासत गरमाई हुई है। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former CM Kamal Nath) ने सीएम शिवराज (CM Shivraj) पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया है। कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा कि गाढ़ दूँगा, टाँग दूँगा, लटका दूँगा, सब दिखावटी व गुमराह करने वाली बाते ? भाजपा सरकार में माफ़ियाओ के हौसले बुलंद, सारी कार्यवाही दिखावटी, बड़े माफिया अभी भी निर्भीक होकर अपने कार्यों को अंजाम दे रहे है। जिन माफ़ियाओ को हमने नेस्तनाबूद किया था वो भाजपा सरकार आते ही फिर मैदान में।

 

अपने अगले ट्वीट में कमलनाथ (Kamal Nath) लिखते है कि शराब माफ़ियाओ का क़हर जारी, उज्जैन में 16 जान लेने के बाद अब मूरैना में शराब माफ़ियाओ ने 10 के क़रीब लोगों की जाने ली। शिवराज जी, शराब माफ़िया आख़िर कब तक यूँ ही लोगों की जान लेते रहेंगे ? सरकार बीमार लोगों का समुचित इलाज करवाये और पीड़ित परिवारों की हरसंभव मदद करे।

वही मुरैना में हुई दुखद घटना पर शिवराज सरकार (Shivraj Government) में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुरैना में जहरीली शराब पीने (Poisonous Liquor) से हुई मौतों की घटना बेहद दुखद और पीड़ादायक बताया है। गृह मंत्री ने बताया कि इस मामले में संबंधित थाना प्रभारी को सस्पेंड (Suspend) कर दिया गया है। साथ ही जांच के लिए अलग से एक दल भी भेजा गया है। घटना के लिए जिम्मेदार कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा।

 

वही सीधी में हुए गैंगरेप को लेकर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) द्वारा ट्वीट किया गया था जिसमें फोटो शेयर करते हुए राहुल गांधी ने लिखा था कि एक और निर्भया! कब तक सहेंगे नारी पर वार?, जिसपर पलटवार करते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध कहीं भी हो दुखद और पीड़ादायक होता है। लेकिन इटली में बैठकर ट्विटर पर चिंता जता रहे राहुल गांधी जी को ऐसे मामलों में सिर्फ मध्यप्रदेश ही नजर आ रहा है, राजस्थान और महाराष्ट्र क्यों नहीं? वे भले ही दूर से देखें लेकिन कम से कम शऊर से तो देखें।

 

वहीं महिला अपराधों को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री ने कहा कि मैं जब से गृह मंत्री बना हुं तब से महिला अपराध कम हुए है। आगे वे कहते है कि भारतीय संस्कृति में मातृशक्ति हर रूप में पूजनीय है। लेकिन विपक्ष के नेता कमलनाथ जी सरकारी आयोजनों में कन्या पूजन पर आपत्ति जता रहे हैं। जिस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष महिला हो और उसके नेता कन्या पूजन पर तंज कसें, यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here