MP By-Election: 55 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत, 2 नवंबर को आएंगे नतीजे, इन सीटों पर दिलचस्प होगा मुकाबला

खंडवा लोकसभा सीट से कांग्रेस ने पूर्व विधायक राजनारायण सिंह पूर्णी को मैदान में उतारा है।

दमोह उपचुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) की एक लोकसभा (loksabha) और तीन विधानसभा सीटों (assembly seat) पर होने वाले उपचुनाव (MP By-election) में कुल 55 उम्मीदवार मैदान में हैं। 30 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव के लिए सोमवार को नामांकन वापसी की अंतिम तिथि के बाद सतना जिले की Raigaon (अनुसूचित जाति) विधानसभा सीट से अधिकतम 19 और खंडवा लोकसभा क्षेत्र से 16 उम्मीदवार मैदान में हैं।

जानकारीके मुताबिक अलीराजपुर जिले की जोबट (अनुसूचित जनजाति) विधानसभा (jobat assembly) सीट से 9 उम्मीदवार मैदान में हैं, जबकि निवाड़ी जिले की पृथ्वीपुर विधानसभा (prithvipur assembly) सीट से 11 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। राज्य में मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ BJP और विपक्षी कांग्रेस के बीच है।

पृथ्वीपुर विधानसभा सीट से BJP ने कांग्रेस के नितेंद्र राठौर के खिलाफ शिशुपाल सिंह को मैदान में उतारा है। शिशुपाल  सिंह समाजवादी पार्टी छोड़ने के बाद भाजपा में शामिल हुए थे। नितेंद्र राठौर पूर्व मंत्री ब्रजेंद्र सिंह राठौर के पुत्र हैं, जिनकी मृत्यु के कारण इस निर्वाचन क्षेत्र में उपचुनाव कराना पड़ा है। वोटों की गिनती 2 नवंबर को होगी।

Read More: शिवराज सरकार की बड़ी तैयारी, लेन-देन के लिए तय किए गए यह नियम

खंडवा लोकसभा सीट पर BJP ने मौजूदा सांसद नंद कुमार सिंह चौहान के बेटे हर्षवर्धन चौहान को टिकट देने से इनकार करते हुए पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष ज्ञानेश्वर पाटिल को मैदान में उतारा है। खंडवा लोकसभा सीट से कांग्रेस ने पूर्व विधायक राजनारायण सिंह पूर्णी को मैदान में उतारा है। कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया के निधन के कारण खाली हुई जोबट (अनुसूचित जनजाति) विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए भाजपा ने कांग्रेस उम्मीदवार महेश पटेल के खिलाफ सुलोचना रावत को टिकट दिया है।

पूर्व विधायक सुश्री रावत हाल ही में कांग्रेस छोड़ने के बाद BJP में शामिल हुईं। वह इससे पहले 1998 और 2008 में दो बार कांग्रेस के टिकट पर इस सीट से जीती थीं। Raigaon (अनुसूचित जाति) सीट से, BJP ने मौजूदा विधायक जुगल किशोर बागरी की बहू प्रतिमा बागरी को मैदान में उतारा है। कांग्रेस ने कल्पना वर्मा को टिकट दिया है, जो इससे पहले 2018 के राज्य विधानसभा चुनाव में जुगल किशोर बागड़ी के खिलाफ चुनाव लड़ चुकी थीं।