MP College: विभाग ने दिए सख्त निर्देश, 10 दिन में पूरा करें काम वरना होगी कार्रवाई

MP College में छात्रों को 10 दिन का वक्त दिया गया है। इसके लिए Link खोल दिया गया है। विद्यार्थी को 500 का शुल्क जमा करना होगा।

स्कूल शिक्षा विभाग

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में दो लाख से अधिक छात्रों को बड़ा झटका लगा है। दरअसल MP College स्नातक (UG) में प्रथम और द्वितीय वर्ष और PG के द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा ओपन बुक पद्धति (open book system) से ली गई थी। विभाग ने इन कक्षाओं के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रवेश देने की व्यवस्था शुरू की है लेकिन अब तक UG और PG के 2 लाख से अधिक छात्रों को प्रमोट (promote) नहीं किया गया है। जिसपर अब विभाग ने प्राचार्यों को सख्त निर्देश दिए हैं।

हालांकि MP College उच्च शिक्षा विभाग (higher education department) ने सभी शासकीय और निजी कॉलेजों के 8 लाख 86,000 विद्यार्थियों को प्रमोट करने के आदेश जारी किए थे लेकिन अब तक सिर्फ 30% को ही प्रमोट किया गया है। MP College में अभी दो लाख से अधिक छात्रों को प्रमोट होने से वंचित रखा गया है जबकि 6 लाख 27000 से अधिक विद्यार्थी को प्रमोट किया गया है। इस मामले में उच्च शिक्षा विभाग (higher education department) कहा है कि यदि 10 दिन में सभी छात्रों को अगली कक्षा और वर्ष में प्रमोट नहीं किया गया तो कॉलेज प्राचार्य पर कार्रवाई की जाएगी।

Read More: उपचुनाव से पहले बड़ा झटका, चुनाव आयोग ने पार्टी के नाम और चिन्ह पर लगाई रोक

मामले में MP College का कहना है कि शिक्षा विभाग के अपर आयुक्त द्वारा विभागीय कार्रवाई के निर्देश देने के बाद कार्य में तेजी देखी जा रही है। मामले में प्रवेश नहीं देने की दिशा में प्रिंसिपल को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। इधर MP College में UG प्रथम और द्वितीय वर्ष और पीजी के द्वितीय सेमेस्टर में प्रमोट करने के लिए छात्रों को 10 दिन का वक्त दिया गया है। इसके लिए Link खोल दिया गया है। विद्यार्थी को 500 का शुल्क जमा करना होगा। कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए बच्चों की परीक्षा ऑनलाइन ओपन बुक पद्धति से ली गई थी, जिसमें रिजल्ट का प्रतिशत 100 फीसद था।