MP Flood: बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों पर सीएम शिवराज की नजर, ग्वालियर-चंबल संभाग को लेकर दिए बड़े निर्देश

सीएम शिवराज

भोपाल, हरप्रीत रीन कौर। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर चंबल संभाग (Gwalior Chambal Division) में भारी बारिश के बाद शिवपुरी, दतिया, श्योपुर और ग्वालियर में बाढ़ के हालात बन गए है।लगातार लोगो को रेस्क्यू किया जा रहा है। सीएम शिवराज सिंह चौहान  खुद अधिकारियों से समीक्षा कर बाढ़ग्रस्त क्षेत्रो के हालात पर नज़र बनाये हुए है। बाढ़ से शिवपुरी और दतिया सहित आस पास के करीबन 1171 गांव प्रभावित हुए है।

यह भी पढ़े.. Bhind News: बांधों से छोड़ा जाएगा पानी! चंबल-सिंध नदी किनारे गांवों में अलर्ट जारी

सीएम शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने मंगलवार सुबह 10.30 बजे मंत्रालय में आपात बैठक बुलाई और ग्वालियर चंबल संभाग के जिलों में स्थिति का जायज़ा लिया। बैठक में गृह मंत्री, राजस्व मंत्री, सीएस, डीजीपी गृह विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे। इसके साथ ही सीएम शिवराज ने SDRF-NDRF और एयरफोर्स के अधिकारियों से भी रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी ली।

बैठक में गृह विभाग(Home Department) के पीएस राजेश राजौरा ने सरकार (MP Government) की तरफ से बाढग़्रस्त इलाको में किये जा रहे रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी दी । शिवपुरी में बीते 24 घंटो में 470 मिमी बारिश दर्ज की गई है। वही शिवपुरी श्योपुर जिले के 200 से ज्यादा गाँव जलमग्न है। इसके साथ ही मनीखेड़ा बांध के भराव के चलते 10 गेट खोले गए है।मुख्यमंत्री ने बैठक के दौरान ग्वालियर चंबल संभाग के कलेक्टर (Collector) से भी बात की और लोगो की हरसंभव मदद किये जाने के निर्देश दिए। वही श्योपुर पोहरो और कोलारस में फंसे लोगों को जल्द रेस्क्यू करने के भी निर्देश दिए।

यह भी पढ़े.. Cabinet Meeting: शिवराज कैबिनेट बैठक आज, इन प्रस्तावों को मिल सकती है मंजूरी

इसके साथ ही अब लखनऊ से भी NDRF की टीम श्योपुर पहुँच रही है। दतिया में भी मंदिर में फंसे दो पुजारियों को भी मोटर बोट से बचाने की कवायद जारी है।मुख्यमंत्री ने बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए है कि बाढग़्रस्त इलाको में पर्याप्त मात्रा में लोगो को फ़ूड पैकेट बांटे जाए, भोजन की कोई कमी न हो, वही बैठक में एनडीआरएफ की टीम के बाढ़ के पानी मे फंसी बस के रेस्क्यू करने की जानकारी भी सामने आई।हालांकि बाढग़्रस्त इलाको में एयरफोर्स का रेस्क्यू अभियान मंगलवार सुबह से शुरू नही हो पाया है इसके पीछे वजह खराब मौसम बताया गया है।

इलाको में मोबाइल नेटवर्क (Mobile Network) को ठीक करने का काम भी शुरू कर दिया गया है ताकि लोगो से संपर्क किया जा सके। सी एम ने बैठक में निर्देश दिए है कि ग्वालियर चंबल संभाग के बांध सुरक्षित है और किसी भी तरह की अफवाह फैलने से रोकी जाये। मुख्यमंत्री शिविराज सिंह चौहान लगातार पूरे हालातो पर नज़र बनाये रखे हुए है।साथ ही अधिकारियों से पल पल की अपडेट ले रहे है।वही दूसरी तरफ शिवपुरी के प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया और स्थानीय मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया (Yashodhara Raje Scindia) भी शिवपुरी जिला मुख्यालय में रहकर बाढ़ की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। रेस्क्यू ऑपरेशन को उचित दिशा निर्देश दे रहे है और मुख्यमंत्री को यथास्थिति से निरंतर अवगत करा रहे है ।

यह भी पढ़े.. भाजपा विधायक ने पुलिसकर्मी के जोड़े हाथ, बोले-BJP को क्यों हरवाने में लगे हो?