MP News : बीजेपी विधायक का सरकार से सवाल, भ्रष्ट अधिकारी पर इतनी मेहरबानी क्यों!

नारायण त्रिपाठी ने लगाए राष्ट्रीय आजीविका मिशन में भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप

BJP MLA Narayan Tripathi questioned : बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने राष्ट्रीय आजीविका मिशन में भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होने प्रभारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी एल एम बेलवाल पर गंभीर आरोप लगाते हुए पूरे मामले की जांच की मांग की है। इससे पहले वो विधानसभा में भी इस विषय से संबंधित सवाल कर चुके हैं, लेकिन अब तक उन्हें इसका कोई उत्तर नहीं मिला है।

विधानसभा में पूछा था ये सवाल

नारायण त्रिपाठी ने मध्य प्रदेश विधानसभा में भी इसे लेकर सवाल किया था, जिसे लेकर आज तक कोई जवाब नहीं आया है। उन्होने सवाल किया था कि ‘मध्य प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन जो केंद्र की प्रमुख योजनाओं में से एक है, उस योजना में पूर्णकालिक मुख्य कार्यपालन अधिकारी नियुक्त नहीं किए गया है बल्कि विवादो मेंं रहे, दिसंबर 2018 में सेवानिवृत श्री एल एम बेलवाल को बिना किसी चयन प्रक्रिया का पालन करते हुए पहले आजीविका मिशन में OSD नियुक्त किया गया फिर मुख्य कार्यपालन अधिकारी का प्रभार दे दिया गया।
खेद का विषय है कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में योग्य अधिकारियों की इतनी कमी है की श्री एल एम बेलवाल की भ्रष्टाचार की कई शिकायतें प्राप्त होने के बावजूद भी उन्हें की प्रभार दे रखा है।’
‘महोदय में पुनः आपका ध्यान आकर्षित करना चाहता हूं कि यह वही व्यक्ति है जिन्होंने आजीविका मिशन में फर्जी बीमा योजना लागू कर हजारों समूह सदस्यों का पैसा डुबो दिया, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की गाइडलाइन के विरुद्ध जाकर गरीब माताओं, बहनों से 24 प्रतिशत ब्याज वसूला, आईआईएफएम के माध्यम से चयन सूची में फेरबदल किया, करोड़ों रुपए के गणवेश घोटाले को बढ़ावा दिया, मिशन की वह गतिविधियों जिनमे भ्रष्टाचार की अधिक संभावनाएं है उन्हे बढ़ावा देने हेतु अनावश्यक मिशन स्टाफ पर दबाव बनाया। भारत सरकार द्वारा कराय गए अध्यन में भी राज्य के 50 प्रतिशत समूह निष्क्रीय पाए गए है जो इनके कार्यकाल में गठित किए गए थे।’
‘श्री एल एम बेलवाल के सभी कारनामों की जांच विभाग द्वारा कराई गयी है एवं जांच में दोषी भी पाया गया है। बेलवाल पर IPC की धाराओं पर प्रकरण दर्ज करने की अनुशंसा भी रिपोर्ट में की गई है, परन्तु विभाग फिर भी कार्रवाई नहीं कर रहा है। बल्कि विभाग द्वारा अपने पत्र क्रमांक 7893 दिनांक 14 जुलाई 2022 के माध्यम से पुनः 1 वर्ष वर्ष के लिए नियुक्ति कर दी है। जनता में इस बात का भारी रोष है की आखिर सरकार की ऐसी क्या मजबूरी है की ऐसे व्यक्ति जिन पर दोष साबित हो चुके हों इन्हे आज भी मुख्य कार्यपालन अधिकारी, आजीविका मिशन बना रखा है। विभाग इनके विरूद्ध कब तक कार्यवाई करेगा एवं श्री एल एम बेलवाल को हटा कर पूर्णकालिक मुख्य कार्यपालन अधिकारी पदस्थ करेगी, यदि नही तो क्यों?’ अब एक बार फिर विधायक ने इस मामले को उठाया है और मुख्यमंत्री से इस विषय पर हस्तक्षेप करने की मांग की है।