MP News : कांग्रेस कार्यालय के बाहर भगवा ध्वज देख कांग्रेसियों ने जताई साजिश की आशंका

मध्य प्रदेश के कांग्रेस कार्यालय (Congress office) के बाहर और इसका भगवा झंडा लगा हुआ है, जिसे देखकर कांग्रेसियों ने किसी बड़ी साजिश की आशंका जताई है। वहीं इस इस मामले को लेकर कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि केसरिया रंग मान और सम्मान का प्रतीक माना जाता है, लेकिन कांग्रेसियों ने इससे दूरी बना ली है।

भोपाल डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के कांग्रेस कार्यालय (Congress office) के बाहर और इसका भगवा झंडा लगा हुआ है, जिसे देखकर कांग्रेसियों ने किसी बड़ी साजिश की आशंका जताई है। वही इस मामले को लेकर शिवराज सरकार के कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग (Cabinet Minister Vishwas Sarang) ने तंज कसते हुए कहा कि केसरिया रंग (Saffron color) मान और सम्मान का प्रतीक माना जाता है। जिसका हम सभी को सम्मान करना चाहिए, लेकिन कांग्रेसियों ने इससे दूरी बना ली है, जिसके कारण उनकी स्थिति ऐसी हो गई है। ऐसे में उन्हें भी केसरिया (Saffron color) का सम्मान करना चाहिए।

कांग्रेस दफ्तर के बाहर लहराया भगवा झंडा

बता दें कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में कांग्रेस दफ्तर (Congress office) के बाहर RSS का भगवा झंडा (bhagava flag of rss) लगाया है। सोमवार को जब कांग्रेस नेता पार्टी कार्यालय से बाहर निकल रहे थे, तभी आर एस एस का भगवा झंडा लहराते हुए उसके बाद कांग्रेस पार्टी (Congress party) के नेताओं ने बड़ी साजिश की आशंका जताई है। साथ ही इस घटना के बाद आपत्ति भी जताई है। इस दौरान पूर्व मेयर दीपचंद यादव (Former Mayor Deepchand Yadav) ने आरोप लगाते हुए कहा कि यह किसी की सोची समझी चाल है, ताकि मंदसौर की तरह यहां भी भावनाओं को भड़काया जा सके। लेकिन हम तो सभी रंगों को अपनाने वाले है, हमे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है।

MP News : कांग्रेस कार्यालय के बाहर भगवा ध्वज देख कांग्रेसियों ने जताई साजिश की आशंका

मंत्री विश्वास सारंग ने दिया बड़ा बयान

कांग्रेस प्रवक्ता रवि सक्सेना (Congress spokesperson Ravi Saxena) ने बीजेपी की ओर इशारा करते हुए कहा कि PCC दफ्तर के बाहर RSS का झंडा लगाना यह उनकी मंशा को अपने आप में उजागर करता है। इस मामले पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया (Congressional response) के बाद कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग (Cabinet Minister Vishwas Sarang) ने बयान दिया है। उन्होंने कहा कि केसरिया रंग मान और सम्मान का प्रतीक माना जाता है। जिसका हम सभी को सम्मान करना चाहिए, लेकिन कांग्रेसियों ने इससे दूरी बना ली है, जिसके कारण उनकी स्थिति ऐसी हो गई है। ऐसे में उन्हें भी केसरिया का सम्मान करना चाहिए।

कांग्रेस पार्टी केसरिया का सम्मान करती है : राकेश प्रवक्ता

विश्वास सारंग की प्रतिक्रिया (Faith Sarang’s response) के बाद कांग्रेस के जिलाध्यक्ष राकेश प्रवक्ता (Congress District President Rakesh Spokesperson) ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के झंडे (Congress flag) में भी रंगों का मिलन है। और रही बात मान और सम्मान की तो कांग्रेस पार्टी केसरिया रंग का मान-सम्मान आवश्यक तौर पर करती है, केसरिया हिंदू धर्म का संवाहक भी माना जाता है। ऐसे में केसरिया रंग के झंडों को सार्वजनिक स्थानों पर लगाने से अच्छा, मंदिर और धार्मिक स्थानों पर लगाया जाना चाहिए।

रविवार को कांग्रेस बीजेपी हुए थे आमने-सामने

उन्होंने कहा कि इस तरह से पीसीसी दफ्तर (PCC office) के बाहर सरकारी पोल पर केसरिया झंडा फहराना किसी की साजिश हो सकती है। हम कांग्रेस पार्टी जिला अध्यक्ष से मांग करेंगे कि इस प्रकार केसरिया झंडे को सरकारी पोल या सड़कों पर फहराने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। बता दें कि मध्यप्रदेश विधानसभा सत्र (Madhya Pradesh assembly session) को लेकर कांग्रेस और बीजेपी रविवार को आमने-सामने आ गए थे, जहां पर कांग्रेस नेता डॉक्टर गोविंद सिंह (Dr. Govind Singh) ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि विधानसभा सत्र को कोरोना का झूठ फैलाकर स्थगित किया गया है।