MP News : प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए 15 नवम्बर से आरंभ होगा विशेष अभियान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में वे पात्र लोग जिन्होने कोरोना वैक्सीन का पहला और दूसरा डोज़ नहीं लगवाया है, उनके लिए 15 नवम्बर से विशेष अभियान चलाया जाएगा। ये जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेशभर में 31 दिसम्बर तक शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। उन्होने निर्देश दिए कि प्रदेश में आगामी दिनों में होने वाले आयोजनों में कोरोना टेस्टिंग और टीकाकरण की विशेष व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। वे प्रदेश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। सीएम निवास पर आयोजित बैठक में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

MP के सहकारी कर्मचारियों को दिवाली से पहले मिला तोहफा, सैलरी में होगी वृद्धि, आदेश जारी

सीएम शिवराज ने कहा कि प्रदेश में कोरोना नियंत्रण में है, फिर भी निरंतर जागरूक रहने की आवश्यकता है। कोरोना अनुकूल व्यवहार और टीकाकरण के लिए जागरूकता पर राज्य सरकार द्वारा विशेष अभियान चलाया जाएगा। प्रदेशवासियों का जीवन बचाने के लिए वैक्सीनेशन आवश्यक है। इसके प्रति जन-जन को जागरूक करने के उद्देश्य से सघन अभियान का संचालन किया जाएगा। अभियान में अपने माता-पिता को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से स्कूल और कॉलेज के बच्चों को भी जोड़ा जाएगा। पहला वैक्सीन लगवाकर दूसरा वैक्सीन लगवाने में लापरवाही बरतने वाले व्यक्तियों को कॉल सेंटर से फोन कर उनका वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि टेस्टिंग की प्रक्रिया लगातार जारी रहे। भोपाल, इंदौर जैसे जिले जहाँ तुलनात्मक रूप से कोरोना के प्रकरण सामने आते रहते हैं, वहाँ विशेष रूप से सघन टेस्टिंग जारी रहे।

इसी के साथ जानकारी दी गई कि प्रदेश में प्रतिदिन 58 हजार आरटीपीसीआर टेस्ट किए जा रहे हैं। शुक्रवार को प्रदेश में मात्र 9 कोरोना केस हैं। प्रदेश की 18 साल से अधिक आयु वर्ग की कुल जनसंख्या 05 करोड़ 49 लाख 50 हजार है, जिसमें से 04 करोड़ 98 लाख 50 हजार लोगों को प्रथम डोज़ और 02 करोड़ व्यक्तियों को द्वितीय डोज़ लग चुका है। इस प्रकार प्रथम डोज़ 91 प्रतिशत और द्वितीय डोज़ 36 प्रतिशत पात्र जनसंख्या को लग चुका है।

प्रदेश में तीन जिले भोपाल, इंदौर और आगर ने प्रथम डोज़ के वैक्सीनेशन में शत-प्रतिशत उपलब्धि दर्ज की है। छिंदवाड़ा में 97 प्रतिशत और उमरिया में 95 प्रतिशत प्रथम डोज़ का वैक्सीनेशन हो चुका है। 23 जिलों में यह 90 से 95 प्रतिशत के बीच है। 17 जिलों में यह 85 से 90 प्रतिशत के बीच है और देवास, अलीराजपुर, पन्ना, खरगोन, सीधी और भिण्ड में प्रथम डोज़ का वैक्सीनेशन 80 से 85 प्रतिशत के बीच हुआ है। द्वितीय डोज़ लगाने में भोपाल और इंदौर में 59 प्रतिशत जनसंख्या को कवर किया जा चुका है। भोपाल में 70 प्रतिशत और इंदौर में 50 प्रतिशत पात्र जनसंख्या ऐसी है, जिसने पहला डोज़ तो लगवा लिया है पर उनका वैक्सीन का दूसरा डोज़ अभी लंबित है।