MP News: 91498 छात्रों को सीएम शिवराज का बड़ा तोहफा, खाते में 25000 रुपए की राशि ट्रांसफर

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज 30 सितंबर 2022 को लाल परेड ग्राउंड भोपाल में प्रदेश के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के बैंक खाते में लैपटाप  के लिए 25000 रुपए की राशि ट्रांसफर की।

cm shivraj mp recruitment

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज 30 सितंबर 2022 को दोपहर 12 बजे लाल परेड ग्राउंड भोपाल में प्रदेश के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के बैंक खाते में लैपटाप  के लिए 25000 रुपए की राशि ट्रांसफर की गई। प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना में प्रदेश के मेधावी विद्यार्थी जिन्होंने 12 वीं कक्षा में प्रथम प्रयास में 75 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त किए हैं, ऐसे 91 हजार 498 प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को योजना में लाभान्वित हुए। स्कूल शिक्षा और जनजातीय विभाग द्वारा संयुक्त रूप से राशि अंतरित की गई है।

यह भी पढ़े..कर्मचारियों के लिए राहत भरी खबर! दिवाली बाद हो सकता है 18 महीने के डीए एरियर पर फैसला, खाते में आएगी 1.50 लाख तक राशि

इसके तहत प्रत्येक संभाग से मण्डल की प्रावीण्य सूची से सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले 2-2 विद्यार्थियों को प्रतीक स्वरूप चेक दिए गए।  सम्मान समारोह का लाइव प्रसारण वेबकास्ट, सोशल मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों से किया गया। इस मौके पर स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री इन्द सिंह परमार और जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह उपस्थित रहे।

इस मौके पर सीएम शिवराज सिंह ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि  मेरे बेटा-बेटियों,आपके उज्ज्वल भविष्य के लिए हमने कई योजनाएं बनाई हैं।उनमें एक है मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना। 12वीं में जो विद्यार्थी 70% अंक से ज्यादा नंबर लेकर आएगा और माता-पिता की वार्षिक आय 6 लाख रु या उससे कम है तो उसके स्नातक की फीस माता-पिता नहीं हम भरवाएंगे। प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के इस कार्यक्रम का उद्देश्य 75 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों के साथ ही अन्य सभी विद्यार्थियों को भी प्रेरित और प्रोत्साहित करना है।

यह भी पढ़े…UP Weather: अक्टूबर से दिखेगा मौसम में बदलाव, आज इन जिलों में बारिश के आसार, जानें विभाग का पूर्वानुमान

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि ये पड़ाव है, मंजिल अभी आगे है। मेरे बेटा-बेटियों, हमें उस मंजिल तक पहुंचना है। तुम जो सोचोगे, वह बन जाओगे। जरूरत है बस लक्ष्य तय करने की ।मेरे लिए सबसे खुशी के पहल होते हैं जब मैं अपने भांजे-भांजियों के बीच में होता हूं।मेरी ईश्वर से यही प्रार्थना है कि मेरे प्रतिभाशाली बच्चे सदैव आगे बढ़ते हुए महान भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करें।