MP: अधिकारी निलंबित, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता समेत 10 को नोटिस, 10 का वेतन काटा

यह कार्रवाई जिला अस्पताल में जाकर मारजुरी के साथ अभद्र व्यवहार करने, जान से मारने एवं एवं FIR दर्ज करवाने की धमकी देने के कारण मध्यप्रदेश सिविल सेवा नियम 1966 (MP Civil Service Rules 1966) के तहत की गई है

MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा आए दिन सरकारी कामों में लापरवाही देखने को मिल रही है, इसके फलस्वरुप कलेक्टरों समेत बड़े अधिकारियों द्वारा कार्रवाई भी की जा रही है।अब मंदसौर कलेक्टर (Mandsaur Collector) मनोज पुष्प ने सहायक पेंशन अधिकारी अश्विनी कटारिया को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

यह भी पढ़े.. MPPSC के अभ्यर्थियों के लिए बड़ी खबर, 15 सितंबर तक करें आवेदन, ये होंगे नियम

यह कार्रवाई जिला अस्पताल में जाकर मारजुरी के साथ अभद्र व्यवहार करने, जान से मारने एवं एवं FIR दर्ज करवाने की धमकी देने के कारण मध्यप्रदेश सिविल सेवा नियम 1966 (MP Civil Service Rules 1966) के तहत की गई है। निलंबन (Suspended) अवधि में इनका मुख्यालय जिला पंचायत मंदसौर रहेगा। निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।

वही दतिया में टीकाकरण महा अभियान के तहत् प्रथम दिवस को कलेक्टर (Datia Collector) संजय कुमार ने नगर में बनाये गए टीकाकरण केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण के दौरान चार केन्द्रों पर तैनात आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सीमा रावत, राजकुमारी गोस्वामी, अवध यादव और रूबी गुप्ता के अनुपस्थित पाए जाने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जबकि दो स्टॉफ नर्स खुशबु धुर्वे और आरती पाल को ड्यूटी स्थल पर उपस्थित न होने के कारण 15 दिवस का वेतन काटने और चेतावनी देने के निर्देश दिए गए है।

यह भी पढ़े.. MP Board: मप्र में कक्षा 1 से 8वीं तक के स्कूल खोलने की तैयारी, 4 दिन बाद अंतिम फैसला

पन्ना कलेक्टर  (Panna Collector) संजय कुमार मिश्र के टीकाकरण केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण के दौरान प्रभारी अधिकारी डीएन यादव ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी गुनौर अनुपस्थित पाये जाने पर 05 वेतन वृद्धि रोकने का कारण बताओं पत्र जारी किया गया और तीन दिन में जवाब मांगा है, अन्यथा अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।वही ANM रक्सेहा ज्योति शर्मा को कारण बताओं पत्र जारी किया गया है और तीन दिन के अंदर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जवाब पेश करने को कहा गया है।

4 को शोकॉज नोटिस, 8 उपयंत्रियों का वेतन काटा

जबलपुर जिला पंचायत की सीईओ (Jabalpur CEO) के निर्देश पर महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MANREGA) के कार्यों में कोताही बरतने पर चार अधिकारियों जनपद पंचायत कुण्डम के सहायक यंत्री मुकेश वर्मा, अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी मनीष पांडे ,जनपद पंचायत मझौली के सहायक यंत्री राकेश शर्मा और अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी शिशिर स्थापक को वेतन रोकने संबंधी कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है और 7 दिनों में जवाब मांगा गया है। ​साथ ही जिले के कम प्रगति लाने वाले 8 उपयंत्रियों का माह अगस्त में 2 दिवस का वेतन काटे जाने का आदेश जारी किया गया है। चेतावनी दी गई है कि प्रगति न लाने पर नियमानुसार कार्यवाही की जावेगी।