MP School : 2 घंटे लगेगी प्री-नर्सरी से केजी 2 तक की कक्षाएं, एसोसिएशन की विभाग से बड़ी मांग

MP School: वहीं जब पूरी क्षमता के साथ विद्यार्थी स्कूल में पहुंचेंगे तो ऑनलाइन क्लासेस को बंद कर दिया जाएगा।

mp school

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट मध्य प्रदेश में कोरोना (MP Corona) के लगे सभी प्रतिबंधों (restrictions) को निरस्त कर दिया गया है। इसके अलावा स्कूलों (MP School) को खोलने पर भी सहमति बन गई है। सभी स्कूल 100% क्षमता के साथ खुलने लगे हैं। 18 महीने तक कोरोना को देखते हुए स्कूलों को बंद रखा गया था। हालांकि पहली से 12वीं तक की कक्षाएं 100 फीसद के साथ संचालित की जा रही है। वहीं छोटे बच्चों की कक्षाएं Corona के मौजूदा हालात और सर्दियों के मौसम को देखते हुए सिर्फ 2 घंटे ही लगाई जाएगी।

दरअसल स्कूल संचालकों का कहना है कि छोटे बच्चों की क्लासेस सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक ही संचालित की जाएगी प्री-नर्सरी (pre-nursery), नर्सरी, केजी1 (KG 1)और केजी2 के स्टूडेंट ऑफलाइन क्लास में शामिल होंगे। मामले में स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार का कहना है कि जब तक ऑफिसर क्षमता के साथ छात्र स्कूलों में नहीं पहुंचेंगे। तब तक ऑनलाइन क्लासेस ली जाएंगी। वहीं जब पूरी क्षमता के साथ विद्यार्थी स्कूल में पहुंचेंगे तो ऑनलाइन क्लासेस को बंद कर दिया जाएगा।

Corona की तीसरी लहर की संभावना पूरी तरह से नष्ट हो चुकी है। बावजूद इसके देश और प्रदेश सरकार किसी भी जोखिम की स्थिति नहीं है। बच्चों के Vaccine पर कार्य अभी भी जारी है। ऐसे में गाइडलाइन का पालन करते हुए स्कूलों को संचालित किया जा रहा है। वहीं छोटे बच्चों की कक्षाएं ऑनलाइन और ऑफलाइन भी संचालित रहेगी। जिसकी वजह से जो शिक्षक ऑफलाइन क्लास लेंगे उन्हें ही ऑनलाइन क्लास भी लेनी होगी।

बता दें कि इससे पहले 100 फीसद क्षमता के साथ ही स्कूल खोलने के प्रस्ताव मुख्य सचिव के पास भेजा गया है। मामले में प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अधिकारियों का कहना है कि प्री नर्सरी, नर्सरी, केजी वन और केजी 2 जैसे छोटी कक्षाओं के बच्चों को 2 घंटे के लिए स्कूलों में बुलाया जा रहा है। इसके साथ उन्होंने School education department से मांग की है कि प्राइमरी, मिडिल और हाई स्कूल में खेलकूद सहित अन्य गतिविधियां आयोजन पर जल्द स्कूल शिक्षा विभाग को निर्णय लेना चाहिए।