MP Weather : मंगलवार को सक्रिय होगा नया सिस्टम, कई जिलों में घने कोहरे-कोल्डवेव का अलर्ट, जानें जिलों का हाल-IMD पूर्वानुमान

10 जनवरी से एक और सिस्टम सक्रिय होगा, जिससे 13 जनवरी को उत्तर प्रदेश और राजस्थान में बारिश के आसार बन रहे हैं। इससे प्रदेश में 10 से लेकर 12 जनवरी तक न तो कोहरा न तो शीतलहर और अन्य कोई अलर्ट रहेगा लेकिन इसका प्रभाव 14 जनवरी से मध्यप्रदेश के कई जिलों में देखने को मिलेगा और तापमान में गिरावट आते ही ठंड बढ़ेगी।

MP Weather Update Today: मध्य प्रदेश में अगले 24 घंटे में फिर मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। एमपी मौसम विभाग (MP Meteorological Department)  की मानें तो अभी दो दिन तक मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहने के आसार हैं। 10 जनवरी को एक तीव्र आवृति वाले पश्चिमी के उत्तर भारत में प्रवेश करेगा, जिसके प्रभाव से हवाओं का रुख बदलते ही पारे में बढ़ोतरी होगी। इससे कड़ाके की ठंड और शीतलहर से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। वही  दो दिनों में पश्चिम मध्यप्रदेश के कहीं-कहीं के हिस्सों में शीत लहर की स्थिति बनी रहने की संभावना है।

 

मौसम विभाग (MP Weather update today) के मुताबिक 9 जनवरी को प्रदेश के ग्वालियर-चंबल के इलाकों में कहीं-कहीं धुंध के साथ घना कोहरा छाया रह सकता है। प्रदेश के अधिकांश इलाकों में आज भी शीतलहर का येलो ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। बुंदेलखंड और बघेलखंड और महाकौशल में तेज ठंड के साथ तीव्र शीतलहर का भी असर दिखाई देगा।  पूर्वी मध्य प्रदेश में कहीं-कहीं  गंभीर शीतलहर की स्थिति तो 10 जनवरी को भी कहीं-कहीं के इलाकों में शीत लहर की स्थिति की संभावना है। 9 और 10 जनवरी को उत्तर मध्य प्रदेश के कहीं कहीं के इलाकों में पाला पड़ने की संभावना है।

10 जनवरी को एक्टिव होगा नया सिस्टम

मौसम विभाग (MP Weather Forecast) के मुताबिक मंगलवार 10 जनवरी से एक और सिस्टम सक्रिय होगा, जिससे 13 जनवरी को उत्तर प्रदेश और राजस्थान में बारिश के आसार बन रहे हैं। इससे प्रदेश में 10 से लेकर 12 जनवरी तक न तो कोहरा न तो शीतलहर और अन्य कोई अलर्ट रहेगा लेकिन इसका प्रभाव 14 जनवरी से मध्यप्रदेश के कई जिलों में देखने को मिलेगा और तापमान में गिरावट आते ही ठंड बढ़ेगी। 14 जनवरी मकर संक्राति के मौके पर ठंड का दूसरा दौर नजर आएगा । पश्चिमी विक्षोभ के बाद 10 से 13 जनवरी के बीच पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में एक और पश्चिमी विक्षोभ के कारण हल्की और मध्यम कुछ इलाकों से लेकर अनेक इलाकों में वर्षा और बर्फबारी देखने को मिल सकती है।

पिछले 24 घंटे का हाल

  • रविवार को न्यूनतम तापमान भोपाल एवं नर्मदापुरम संभाग के जिलों में काफी गिरे एवं शेष संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ।
  • न्यूनतम तापमान सागर, रीवा और शहडोल संभाग के जिलों में विशेष रूप से कम, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर और नर्मदापुरम संभाग के जिलों में सामान्य से काफी कम रहे।
  • उज्जैन संभाग में सामान्य से कम एवं शेष संभागों के जिलों में सामान्य रहे। देश के सबसे ठंडे नौ शहरों में मध्य प्रदेश के तीन शहर शामिल रहे।
  • पहली बार समूचे प्रदेश में रात का पारा 10 डिग्री सेल्सियस के नीचे गया है।
  • नौगांव देश का सबसे ठंडा रहा, जहां 21 साल बाद शनिवार-रविवार की रात का पारा 0 से नीचे माइनस 1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया।
  • 10 शहरों में रात का पारा 4 डिग्री सेल्सियस से कम रिकॉर्ड किया गया।
  • इंदौर-खंडवा को छोडकर प्रदेश भर में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा।
  • प्रदेश भर में अधिकतम तापमान जनवरी में पहली बार 25 डिग्री सेल्सियस से ऊपर चला गया