MP Weather: अब मानसून पकड़ेगा रफ्तार, इन 12 ज़िलों में भारी बारिश की चेतावनी

भोपाल।

मानसून(monsoon) के सक्रिय होते ही प्रदेशभर (madhypradesh) में बारिश (rain) का सिलसिला शुरु हो गया है।बुधवार को मौसम विज्ञानियों ने पूरे प्रदेश में मानसून के पहुंचने की घोषणा कर दी है।इस दौरान कहीं-कहीं हल्की बौछारें पड़ती रहेंगी। फ़िलहाल अच्छी बारिश के लिए अभी चार दिन तक इंतजार करना होगा। वहीँ बुधवार को सुबह 8.30 से शाम 5.30 बजे के बीच नौगांव में 17, गुना में 4, मलाजखंड में एक मिमी बरसात हुई। वही तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई।

दरअसल 24 जून को पूरा मध्य प्रदेश मॉनसून की बौछारों से भीग चुका है। इधर मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को प्रदेश के 12 ज़िलों में ज़ोरदार बारिश (heavy rain) होगी और 5 संभागों में गरज-चमक के साथ बौछार पड़ेंगी। प्रदेश में सबसे आखिर में ग्वालियर और गुना में  मॉनसून पहुंचा है ।वहीँ रीवा,सतना, सागर पन्ना, अशोकनगर,ग्वालियर,दतिया गुना,शिवपुरी, राजगढ़,विदिशा और उज्जैन जिलो में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला के अनुसार पश्चिम बंगाल में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बनने के संकेत मिले हैं। इसके आगे बढ़ने पर 29 जून से पूरे प्रदेश में झमाझम बारिश होने की संभावना है। वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि मानसून पूरे प्रदेश में आ चुका है, लेकिन चार दिन बाद ही अच्छी बरसात होने के लिए स्थितियां बनेंगी।

इधर बुधवार को प्रदेश के ज़्यादातर इलाकों में बारिश हुई। कहीं ज़ोर से बादल बरसे तो कहीं गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पड़ीं। जिसमें नौगांव 17 मिमी, गुना 4 मिमी, ग्वालियर 0.4 मिमी, उज्जैन 0.4 मिमी, सतना 0.9 मिमी, इंदौर0.3 मिमी बारिश दर्ज की गयी। वहीँ वर्तमान में उड़ीसा पर बना ऊपरी हवा का चक्रवात आगे बढ़कर उत्तर-पूर्वी मप्र पर आ गया है। लेकिन वह कमजोर पड़ चुका है। वातावरण में काफी नमी मौजूद है इसलिए धूप निकलने से तापमान बढ़ते ही दोपहर बाद कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने का सिलसिला जारी रहेगा।