MP Weather: 3 वेदर सिस्टम एक्टिव, पश्चिमी विक्षोभ से बदलेगा मौसम, इन जिलों में बारिश के आसार, पढ़े पूर्वानुमान

9 नवंबर के आसपास भी एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने के आसाार है।अगले दो से तीन दिन तापमान में इसी तरह की बढ़ोतरी देखने को मिलेगी।

mp weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। 8 नवंबर को नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा, जिसके कारण मध्य प्रदेश के मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। एमपी मौसम विभाग के अनुसार सोमवार 7 नवंबर से मौसम के मिजाज बदल सकते है और 8 नवंबर को हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इस दौरान ग्वालियर चंबल संभागों के जिलों में कहीं-कहीं वर्षा भी हो सकती है। वही 10 नवंबर के बाद तापमान में गिरावट के आसार बनेंगे और ठंड बढ़ना शुरू हो जाएगी।

यह भी पढ़े..Bank Holiday 2022: फटाफट निपटा लें जरूरी काम, 6 से 20 नवंबर के बीच 6 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखें लिस्ट

मौसम विभाग (MP Weather Today) के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में भी कम दवाब का क्षेत्र विकसित हो रहा है, जो दक्षिण भारत में बारिश करवाएगा। रविवार काे बादल छा सकते हैं। साथ ही ग्वालियर-चंबल संभागाें के जिलाें में कहीं-कहीं वर्षा भी हाे सकती है। पिछले 24 घंटाें के दौरान मध्य प्रदेश के सभी संभागाें के जिलाें में मौसम मुख्यत: शुष्क रहा। न्यूनतम तापमानाें में सभी संभागाें के जिलाें में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ।

मौसम विभाग (MP Weather update)  सोमवार 7 नवंबर के बाद फिर मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव 8 नवंबर को ग्वालियर-चंबल अंचल के साथ-साथ भोपाल और इंदौर में भी हल्की बारिश के संकेत है।पाकिस्तान से आने वाली हवाएं 8 नवंबर को पश्चिमी उत्तर प्रदेश से मध्यप्रदेश में प्रवेश करेगा,इसके प्रभाव से ग्वालियर चंबल में बारिश होने की संभावना है। इंदौर और भोपाल में कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी के भी आसार हैं।

यह भी पढ़े…MP Weather: एक साथ कई सिस्टम एक्टिव, छाएंगे बादल, 8 नवंबर को बारिश के आसार, पढ़े मौसम विभाग का पूर्वानुमान

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Forecast) के अनुसार वर्तमान में हिमालय व पंजाब क्षेत्र में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ का आंशिक प्रभाव प्रदेश पर दिखाई दे रहा है, जिसके कारण तापमान में इजाफा हो रहा है। हिमालय क्षेत्र में मंगलवार 8 नवंबर को भी एक पश्चिमी विक्षाेभ सक्रिय होगा, ऐसे में 10 नवंबर तक तापमान में उछाल देखने को मिलेगा लेकिन पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने के बाद पारा गिरेगा।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) के मुताबिक 9 नवंबर के आसपास भी एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने के आसाार है।अगले दो से तीन दिन तापमान में इसी तरह की बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। उत्तर पश्चिम हवा अपने साथ कश्मीर की ठंडक लेकर आने लगी, जिससे ग्वालियर में 9 नवंबर के बाद तापमान में गिरावट दिखेगी। मध्यप्रदेश में अच्छी कड़ाके की ठंड दिसंबर से शुरू होगी और फरवरी तक रहेगी।

क्या कहता है मौसम विभाग

वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षाेभ अफगानिस्तान और उससे लगे पाकिस्तान पर ट्रफ के रूप में बना हुआ है। उत्तरी पाकिस्तान और उससे लगे जम्मू–कश्मीर पर एक प्रेरक चक्रवात बना हुआ है। इस चक्रवात काे अरब सागर में बने प्रति चक्रवात से लगातार नमी मिल रही है और  हवाओं का रुख बदल गया है और पारा बढ़ने लगा है।नमी आने के कारण रविवार काे मध्य प्रदेश में कहीं- कहीं बादल भी छा सकते हैं।  पश्चिमी विक्षाेभ के असर से रविवार से उत्तर भारत के पहाड़ाें मेें बर्फबारी और बारिश होगी।

MP Weather: 3 वेदर सिस्टम एक्टिव, पश्चिमी विक्षोभ से बदलेगा मौसम, इन जिलों में बारिश के आसार, पढ़े पूर्वानुमान