MP Weather: 3 वेदर सिस्टम एक्टिव, 18 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, 5 संभागों में बिजली गिरने की भी चेतावनी

आज शुक्रवार 1 जुलाई 2022 को 18 जिलों में भारी से अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वही सभी 5 संभागों और 5 जिलों में बिजली गिरने और चमकने को लेकर भी येलो अलर्ट जारी किया गया है।

cg weather update

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। वर्तमान में अलग अलग स्थानों पर 3 वेदर सिस्टम एक्टिव होने से मानसून एक्टिव हो गया है।  एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) ने आज शुक्रवार 1 जुलाई 2022 को 18 जिलों में भारी से अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वही सभी 5 संभागों और 5 जिलों में बिजली गिरने और चमकने को लेकर भी येलो अलर्ट जारी किया गया है।इधर जून में सामान्य बारिश 5 इंच मानी जाती है, लेकिन इस बार 30 जून तक प्रदेश में सिर्फ सवा चार इंच बारिश ही हो पाई है। जुलाई में अच्छी बारिश होने के आसार है।

य़ह भी पढ़े.. कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए बड़ी खबर, छुट्टियां निरस्त, ये निर्देश जारी

एमपी मौसम विभाग (MP Weather alert ) के अनुसार, आज शुक्रवार 1 जुलाई 2022 को सीधी, सिंगरौली, उमरिया, डिंडौरी, कटनी, जबलपुर, विदिशा, राजगढ़, बैतूल, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, रतलाम, देवास, उज्जैन, शाजापुर,मंदसौर और नीमच में भारी से अति भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। वही भोपाल, नर्मदापुरम, चंबल, शहडोल और रीवा संभाग संभागों में गरज चमक के साथ बिजली गिरने और चमकने का अलर्ट जारी किया गया है।पिछले 24 घंटों के होशंगाबाद में 110.6, रतलाम में 68, पचमढ़ी में 63, गुना में 55, मंडला में 31.6, खंडवा में 19, सिवनी में 11.4, धार एवं बैतूल में 11.2, उमरिया में 10.4, इंदौर में 9.8, सागर में 6.8, रीवा में 4.2, खरगोन में 2.4, भोपाल में 1.8 मिलीमीटर वर्षा हुई।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Forecast ) के अनुसार, वर्तमान में 3 वेदर सिस्टम एक्टिव है। वर्तमान में पश्चिम-मध्य अरब सागर में हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। पूर्व-पश्चिम ट्रफ पंजाब-हरियाणा से लेकर दक्षिणी उत्तर प्रदेश, पूर्वोत्तर मध्य प्रदेश, उत्तरी छत्तीसगढ़, झारखंड और पश्चिम बंगाल से होते हुए पूर्वोत्तर बंगाल की खाड़ी तक विस्तृत है। जबकि दक्षिणी गुजरात से उत्तरी कर्नाटक तट के समांतर अपतटीय ट्रफ समुद्र तल पर बना हुआ है। इन 3 मौसम सिस्टम के कारण बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से नमी मिल रही है और मध्य प्रदेश में कहीं–कहीं वर्षा हो रही है ।

यह भी पढ़े.. शिक्षकाें के लिए बड़ी खुशखबरी! मानदेय में होगी 4% की वृद्धि, सैलरी समेत मिलेंगे ये भी लाभ

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Update ) के अनुसार, गुरूवार को आखिरकार ग्वालियर, भिंड, मुरैना, दतिया व श्योपुर में मानसून की औपचारिक घोषणा हो ही गई लेकिन उड़ीसा में बने चक्रवातीय घेरे के कमजोर पड़ते ही भारी बारिश नही हुई ।हालांकि जुलाई के पूर्वानुमान के अनुसार पहले सप्ताह में अच्छी बारिश हो सकती है। वर्तमान में छत्तीसगढ़ व उड़ीसा के ऊपर चक्रवाती घेरा बना हुआ है, इसके प्रभाव से बंगाल की खाड़ी से नमी आने के कारण इंदौर में वर्षा हुई और अगले दो दिन जारी रहेगी।

MP Weather: 3 वेदर सिस्टम एक्टिव, 18 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, 5 संभागों में बिजली गिरने की भी चेतावनी