MP Weather Update : मध्यप्रदेश के इन जिलों में आज बारिश की संभावना

मौसम विभाग की माने तो तीन दिनों से आंध्र तट पर कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ था, जिसके चलते अरब सागर से मध्य प्रदेश में बड़े पैमाने पर नमी आई है,

भोपाल , डेस्क रिपोर्ट। अरब सागर से मिल रही नमी के कारण मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में फिर से बारिश का दौर शुरु हो गया है। सोमवार को एक दर्जन से ज्यादा जिलों में बारिश देखने को मिली। मौसम विभाग की माने तो अगले 48 घंटों में भोपाल, होशंगाबाद, उज्जैन और इंदौर संभाग में बारिश (Rain) होने के आसार हैं। आज मंगलवार (Tuesday) को मौसम विभाग ने 4 संभागों और एक दर्जनों जिलों में बारिश की संभावना जताई है।

मौसम विभाग (Weather Department) की माने तो तीन दिनों से आंध्र तट पर कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ था, जिसके चलते अरब सागर से मध्य प्रदेश में बड़े पैमाने पर नमी आई है, हालांकि यह सिस्टम अरब सागर के रास्ते अरब देशों की तरफ बढ़ गया है, लेकिन इसके असर के चलते सोमवार को कई जिलों में बारिश हुई।

विभाग की माने तो रविवार को बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। इसके सोमवार तक कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होकर दक्षिण दिशा में आगे बढ़ने की संभावना है। इसके चलते आने वाले दो दिनों में भी प्रदेश के कई संभागों में बारिश होने की संभावना है, लेकिन दिन के तापमान में कमी नही आई है। हालांकि इससे दो दिन बाद रात के तापमान में गिरावट होने के आसार हैं।

पिछले चौबीस घंटे में भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, ग्वालियर, उज्जैन संभागों के जिलों के साथ साथ भोपाल, रायसेन, होशंगबाद, सीहोर के अलावा कई जिलों में बारिश हुई।पिछले 24 घंटे के दौरान देपालपुर (इंदौर) में 75.3, नीमच में 70, रतलाम में 50, नागदा में 48, मंदसौर में 28, इंदौर में 24, देवास में 23, राजगढ़ में 15, मंडला में नौ, भोपाल में 7, उज्जैन में 0.6 मिमी. बारिश हुई।सबसे अधिक तापमान दमोह, होशंगाबाद और खंडवा में 37 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, वही सबसे कम तापमान मंडला जिले में 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

क्या कहता है IMD
भारतीय मौसम विभाग IMD के अनुसार   20 और 21 अक्टूबर को ओडिशा और 19 अक्टूबर, 2020 को तमिलनाडु में तेज बारिश हो सकती है।  अगले 4 दिनों के दौरान केरल को छोड़कर ओडिशा और प्रायद्वीपीय भारत में व्यापक रूप से भारी बारिश और मध्यम गरज और बिजली गिरने के साथ व्यापक रूप से व्यापक वर्षा हो सकती है।संभावित सिस्टम झारखंड और बिहार को भी 22 से 24 अक्टूबर के बीच हल्की से मध्यम वर्षा दे सकता है। हालांकि उत्तरी छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश पर इसका प्रभाव नहीं दिखेगा।

इन जिलों में गरज चमक के साथ बौछार

जबलपुर, भोपाल, उज्जैन, इंदौर,होशंगबाद सभागों के जिलों। गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, उमरिया, डिंडौरी, दमोह, सागर, छतरपुर जिलों में।

गरज के साथ बिजली चमकने के संभावना

भोपाल, इंदौर, होशंगबाद संभागों के साथ साथ गुना, शिवपुरी, अशोकनगर जिलों में।

 

MP WEATHER UPDATE

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here