Narendra Singh Tomar

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने कांग्रेस (Congress) सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कमलनाथ (Kamal Nath) ने 2018 के चुनाव में किसान कर्ज माफी (Farmer loan waiver) का वादा किया था,लेकिन किसानों के साथ कर्जमाफी को लेकर वादाखिलाफी की, जिस कारण किसानों में आंतरिक विरोध है।

केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने की ये मांग, CM शिवराज ने मंच से कर दी घोषणा

वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने पिछले 15 साल ओर अब के 6 महीने के कार्यकाल में किसानों के हित मे फैसले लिए हैं। उपचुनाव के दौरान हो रही बयान बाजी को लेकर तोमर ने कहा कि दिमाग मे जब कुछ मटेरियल नही होता तो ऐसी बयान बाजी होती है..कांग्रेस नेता शिवराज सिंह चौहान को भूखे नगें घर का बता रहे है। इस देश मे गरीब होना क्या अभिश्राप है। कमलनाथ अगर बड़े घर के है तो उन्होंने क्या कर दिया। शिवराज ने अपने परिश्रम से ये मुकाम हासिल किया, इसलिए वो 13 साल सीएम रहे हैं। जनता के हित में काम किया है ।

 कांग्रेस पूरी तरह से खत्म – नरेन्द्र सिंह तोमर

वहीं तोमर ने साफ कर दिया कि उपचुनाव में भाजपा की स्थिति मजबूत है, कमलनाथ की 15 महिने की सरकार में भ्रष्टाचार चर्म पर था, कांग्रेस के पास आधार खत्म हो गया है। कांग्रेस के पास उम्मीदवार तक नहीं हैं तभी बाहरियों को टिकट दिया जा रहा है। एमपी में पूरी तरह से कांग्रेस खत्म हो चुकी है ।जिस तरह के नारे कांग्रेस लगा रही है उन नारों से जीत नहीं मिलती। कांग्रेस के बड़े नेताओँ पर तंज कसते हुए तोमर ने कहा कि राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, सचिन पायलट ने यूपी में भी प्रचार किया था, जो वहां हुआ था वही हश्र एमपी में भी होगा।

कृषि बिल किसानों के लिए वरदान-नरेन्द्र सिंह तोमर
तोमर ने केंद्रीय कृषि बिल को लेकर कहा कि ये बिल किसानों के जीवन मे अभूतपूर्व बदलाव लाने वाला है। इससे पहले यूपीए सरकार ने भी कृषि बिल लाने की कोशिश की थी, कुछ लोगों के दबाव में आकर यूपीए सरकार ये कृषि बिल नही ला सकी, लेकिन नरेंद्र मोदी की सरकार संकल्प से कृषि बिल लेकर आई है.. इसलिए इस बिल पर कांग्रेस का विरोध अप्रसांगिक है।कांग्रेस कृषि बिल को लेकर दोहरा रवैया अपना रही है।तोमर ने कांग्रेस को सलाह देते हुए कहा कि कांग्रेस दो मुँही राजीनीति से बाज आ जाना चाहिए।