Arnab Goswami की गिरफ्तारी के बाद सामने आया नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान

नरोत्तम मिश्ना ने कहा कि ये कांग्रेस का चरित्र ही है कि वह जब भी सत्ता में आती है प्रजातंत्र के चौथे स्तंभ को ऐसे ही अपमानित करने का प्रयास करती है। 

narottam_mishra

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। महाराष्ट्र (Maharashtra) में रिपब्लिक टीवी (Republic TV) के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) की गिरफ्तारी के बाद जमकर सियासत गर्माई हुई है। सड़क से लेकर सोशल मीडिया (Social Media) तक  निंदा की जा रही है। इस कार्रवाई को लेकर महाराष्ट्र पुलिस पर सवाल खड़े हो रहे है। लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को कुचलने की बात कही जा रही है।वही मध्यप्रदेश में भी बयानबाजी का दौर तेजी से चल रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (VD Sharma के बाद अब गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) का बड़ा बयान सामने आया है।

मिश्रा (Narottam Mishra) ने आज मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि आज महाराष्ट्र में ‘आपातकाल’ (Emergency) लौट आया है। पत्रकार #ArnabGoswami की गिरफ्तारी संविधान में वर्णित मौलिक अधिकार अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर सीधा हमला है।बार-बार संविधान को खतरे में बताकर लोगों में डर पैदा करने वाले कांग्रेस (Congress) के युवराज राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर महाराष्ट्र सरकार के सीधे हमले को लेकर क्या अब‌ संविधान (Constitution) की दुहाई देकर अपनी खमोशी तोड़ेंगे?

वही उन्होंने आगे कहा कि मुम्बई पुलिस ने वरिष्ठ पत्रकार #ArnabGoswami को जिस तरह हिरासत में लिया है वो बेहद निंदनीय है। दरअसल ये कांग्रेस का चरित्र ही है कि वह जब भी सत्ता में आती है प्रजातंत्र के चौथे स्तंभ को ऐसे ही अपमानित करने का प्रयास करती है।कांग्रेस और महाराष्ट्र में उसकी गठबंधन सरकार ने एक बार फिर लोकतंत्र को शर्मसार किया है। वरिष्ठ पत्रकार #ArnabGoswami के खिलाफ सत्ता का दुरुपयोग अभिव्यक्ति की आजादी और लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर सीधा हमला है। देश इस शर्मनाक हरकत को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेगा।

ये है पूरा मामला

दरअसल, आज सुबह मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने अर्नब गोस्वामी को आईपीसी की धारा 306 के तहत  एक इंटीरियर डिजाइनर और उनकी मां की आत्महत्या के मामले गिरफ्तार किया है।मई 2018 में आत्महत्या से पहले लिखे एक खत में अन्वय नाइक ने आरोप लगाया था कि अर्नब गोस्वामी ने रिपब्लिक नेटवर्क के स्टूडियो का इंटीरियर डिजाइन कराने के बाद भुगतान नहीं किया था। जबकी रिपब्लिक न्यूज चैनल का दावा है कि अर्नब को उस मामले में गिरफ्तार किया गया है, जो पहले ही बंद किया जा चुका है। पुलिस महानिरीक्षक (कोंकण रेंज) संजय मोहिते ने पुष्टि की कि अर्नब गोस्वामी को रायगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हालांकि, उन्होंने अधिक विवरणों देने से इनकार कर दिया। अर्नब को अलीबाग पुलिस स्टेशन में रखा गया है । थोड़ी देर बाद उन्हें स्थानीय कोर्ट में पेश किया जाएगा। अनर्ब ने आरोप लगाया है कि उन्हें मुंबई पुलिस ने मारा है। अर्नब गोस्वामी की यह गिरफ्तारी ऐसे वक्त में हुई है, जब उनके खिलाफ टीआरपी स्कैम मामले की जांच चल रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here