नरोत्तम का कटाक्ष- “कांग्रेस के लिए अब एनपी प्रजापति मतलब नॉट परमिटेड”

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। उप चुनावों के लिए कांग्रेस के द्वारा घोषित की गई स्टार प्रचारकों की सूची में से वरिष्ठ कांग्रेस नेता एनपी प्रजापति (NP Prajapati) का नाम हटाए जाने पर गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस के लिए अब एनपी मतलब नॉट परमिटेड (Not Permitted) हो गए हैं।

MP By Election 2021 : दिग्विजय के प्रचार में शामिल नहीं होने पर बोले वीडी – वे जानते हैं लोगों को 2003 याद आ जायेगा

2 दिन पहले कांग्रेस ने खंडवा के लोकसभा और जोबट, रैगांव को पृथ्वीपुर विधानसभा के उपचुनाव के लिए स्टार प्रचारकों की सूची जारी की। इस सूची में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष नारायण प्रसाद प्रजापति यानी एनपी प्रजापति का नाम भी शामिल था। लेकिन कुछ घंटों के बाद ही सूची में संशोधन हो गया और एनपी प्रजापति की जगह राज्यसभा सांसद विवेक तंखा को स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल कर लिया गया। इस पर खुद विवेक तंखा ने आपत्ति जताते हुए ट्वीट किया था कि यदि उन्हें पता होता कि वे एनपी की जगह पर स्टार प्रचारक की सूची में आ रहे हैं तो ऐसा कतई नहीं होने देते। अब बीजेपी इसे मुद्दा बना रही है।

गृह एवं जेल मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने तंज कसते हुए कहा है कि नारायण प्रसाद प्रजापति अब कांग्रेस के लिए नॉट परमिटेड हो गए हैं। नरोत्तम ने कहा कि जब कांग्रेस में नेता प्रतिपक्ष बनने की बारी आई तब एनपी प्रजापति को दरकिनार कर दिया गया। कमलनाथ के मंत्रिमंडल में उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया। लोक लेखा समिति का अध्यक्ष नहीं बनाया गया और अब स्टार प्रचारकों की सूची से भी बेदखल कर दिया गया। नरोत्तम का कहना है कि दरअसल कांग्रेस की मानसिकता ही है कि वह दलित वर्ग के नेताओं को आगे नहीं आने देती। नारायण प्रजापति इसका ताजा उदाहरण है।