Nath-shifts-proposed-Israel-farm-centres-to-constituency

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) में सियासी बयानबाजी और आरोप-प्रत्यारोप के बीच एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ(Former Chief Minister Kamal Nath) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) को पत्र लिखा है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सीएम शिवराज(CM Shivraj) से CBI जांच की मांग की है। उन्होंने कहा है कि गोंगपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनमोहन शाह बट्टी(Gongpa National President Manmohan Shah Batti) की मौत की सीबीआई(CBI) जांच की जानी चाहिए। कमलनाथ ने अपने पत्र में लिखा है की बट्टी की मौत विवादों में घिर गई है। आदिवासी समाज के वरिष्ठजन और अन्य उपस्थित प्रबुद्धजनों ने मृत्यु को संदेहास्पद बताया है। जिसकी शंकाओं के समाधान के लिए सीबीआई जांच आवश्यक है।

दरअसल अपने लिखे पत्र में पूर्व मुख्यमंत्री नाथ ने कहा है कि आदिवासी समाज के लोकप्रिय एवं बड़े नेता होने के साथ-साथ मनमोहन शाह बट्टी अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रहे हैं। उनकी मौत जिस अप्रत्याशित रूप से हुई है। उससे संपूर्ण आदिवासी समाज में संदेह और आक्रोश की स्थिति बनी हुई है। आदिवासी समाज अपनी शंकाओं का समाधान चाहते हैं। इसलिए पूर्व विधायक(Former MLA) की मृत्यु की जांच विश्वसनीय एजेंसी के माध्यम से निष्पक्ष करवाई जाए। जिससे आदिवासी समाज में विश्वास की स्थिति बनी रहे।

बता दें कि अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और अमरवाड़ा विधानसभा के पूर्व विधायक स्वर्गीय मनमोहन शाह बट्टी का आकस्मिक निधन 2 अगस्त को हो गया था। जिसके बाद से मनमोहन शाह बट्टी की मौत से लगातार संदेह के घेरे में है। वहीँ इस मामले को लेकर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने राज्यपाल(Governer) के नाम एक ज्ञापन कलेक्टर(Collector) एसडीएम(SDM) को सौंपा था। जिसमें सीबीआई जांच की मांग की गई थी। अब इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी सीएम शिवराज को पत्र लिख पूर्व विधायक की मृत्यु की सीबीआई जांच की मांग रखी है।

गोंगपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की मौत, कमलनाथ ने शिवराज से की CBI जांच की मांग