NGT ने दिए स्लाटर हाउस बंद करने के आदेश, सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी में निगम

भोपाल ।

शहर के जिंसी इलाके में 40 सालों से चल रहे स्लाटर हाउस को बंद करने के एनजीटी ने आदेश दिए है उसके बाद अब नगर निगम सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहा है। प्रशासनिक अधिकारीयों के बीच बैठक के बाद यह तय हुआ कि निगम प्रशासन अब सुप्रीम कोर्ट में अपील करेगा अफसरों साथ ही भोपाल के पास अचारपुरा में नए स्लाटर हाउस के लिए जमीन तलाशी जा रही है  ।

 एनजीटी ने राज्य शासन और नगर निगम को स्लाटर हाउस को बंद करने के आदेश दिए हैं ।सुनवाई के दौरान कई तर्क सामनें आए थे जिसमें शहरी क्षेत्र में स्लाटर हाउस से बीमारीयां और पॉल्यूशन होना साथ ही बढती हुई आवादी के चलते भोपाल की जनता को राहत दिलाने के लिए इस स्लाटर हाउस को बंद करना जरूरी बताया गया।

एनजीटी के न्यायाधीश ने नाराजगी जताते हुए कहा कि हमें भरोसा हो गया है कि अब 31 दिसंबर तक नया स्लाटर हाउस बन कर तैयार नहीं होगा 2015 से लगातार यही स्थिति बनी हुई है । हर सुनवाई पर अलग-अलग कारण बताए जाते हैं ऐसे में भोपाल की जनता को प्रदूषण से राहत दिलाने और हमारे पुराने आदेश का पालन कराने के लिए अब यह जरूरी हो गया है कि जिंसी स्थित स्लाटर हाउस को बंद कर दिया जाए। एसके स्थान पर नई जगह तलासी जाए जिसे लेकर अब अफसर बैरसिया के पास अचारपुरा में जमीन तलाश कर रहे है । भोपाल नगर निगम अध्यक्ष का तर्क है कि अब जनभावना को देखते हुए इस तरह का निर्णय लिया गया है हालांकी चार बार निगम की बैठक् में प्रस्ताव लाया गया जिसे हर बार पास किया गया है