VIDEO :अब BJP की इस दिग्गज नेत्री ने थामा कांग्रेस का हाथ, पार्टी पर लगाए कई गंभीर आरोप

Obeadullahganj-Municipality-President-Harpreet-Kaur-join-congress-in-madhy-pradesh

भोपाल। विधानसभा की तरह लोकसभा चुनाव मे भी नेताओं का दल बदलने का सिलसिला तेजी से चल रहा है। आए दिन नेता एक दल से दूसरे दल में शामिल हो रहे है। बीते दिनों ही बसपा, सपा और बीजेपी के दर्जनों नेताओं कांग्रेस में शामिल हुए थे। एक बार फिर बड़ी संख्या में भाजपा और बसपा नेताओं ने कांग्रेस का दामन थामा है। अब रायसेन जिले की औबेदुल्लागंज नगर पालिका अध्यक्ष हरप्रीत कौर बिट्टू रानी कांग्रेस में शामिल हो गई है। इसके अलावा  कई भाजपा और बसपा नेता भी कांग्रेस में शामिल हुए ।पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और मंत्री पी सी शर्मा ने उन्हें कांग्रेस की सदस्यता दिलाई । लोकसभा चुनाव से पहले इसे भाजपा के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है| रायसेन जिले में नपा अध्यक्ष हरप्रीत कौर एक बड़ा नाम था, इससे पहले भी विधानसभा चुनाव के दौरान उनके कांग्रेस में जाने की चर्चा थी, लेकिन भाजपा नेताओं की समझाइश के कारण उनका कांग्रेस में आना टल गया| लेकिन आखिरकार कांग्रेस को सफलता मिली| औबेदुल्लागंज भोजपुर विधानसभा क्षेत्र में आता है, जहाँ से भाजपा के विधायक सुरेंद्र पटवा हैं, वहीं इससे पहले मंडीदीप में भी बीजेपी को बड़ा झटका लग चुका है| 

कांग्रेस की सदस्यता लेने के बाद हरप्रीत कौर ने वरिष्ठ नेता दिग्विजय और मुख्यमंत्री कमलनाथ को धन्यवाद दिया और बीजेपी पर उपेक्षा के आरोप लगाए। कौर ने कहा कि यह विदिशा संसदीय क्षेत्र का दुर्भाग्य है जो  यहां की सांसद और देश की पहली विदेश मंत्री सुषमा स्वराज है, बावजूद इसके क्षेत्र में उनके ही पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा प्रतिनिधियों के साथ दुर्व्यहार किया जाता है, उनका मान-सम्मान नही दिया जाता है। बीते सालों में में कई पदों पर रही लेकिन पार्टी ने कभी मुझे सहयोग नही दिया।मैने ये बात पार्टी और संगठन के बीच भी रखी लेकिन कोई सुनवाई नही हुई और आखिर मुझे पार्टी छोड़ने को मजबूर होना पड़ा।

कौर यही नही रुकी उन्होंने आगे कहा कि मैं और मेरे पति कई सालों से बीजेपी के लिए काम कर रहे थे। पहले मेरे पति पार्षद रहे और इसके बाद मैं भी पार्षद रही। महिला मोर्चे में भी मैने जिला मंत्री और महामंत्री के पद पर रहकर काम किया और आज नगर पालिका की अध्यक्ष हूं। लेकिन जो मान-सम्मान मुझे मिलना चाहिए था, वो नही मिला। नगर में 13 में से 11 पार्षद बीजेपी के होने के बावजूद पार्टी पार्षदों ने मेरे खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया, मैने कोर्ट से स्टे लिया फिर भी वे मेरी उपेक्षा करते रहे और मुझे परेशान किया। यह सिर्फ मेरे साथ ही नही बल्कि इसके पहले मंडीदीप की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष पूर्णिमा जैन के साथ ही ऐसा ही व्यवहार किया गया जिसके चलते उन्होंने भी पार्टी का साथ छोड़ दिया। वही इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने पार्टी में शामिल होने के लिए हरप्रीत कौर और सभी नेताओं का स्वागत किया और बधाई दी। इस मौके पर पीसी शर्मा , कांग्रेस नेत्री शोभा ओझा समेत कई कांग्रेस नेता उपस्थित रहे।