महाराष्ट्र के सियासी घटनाक्रम पर बोले कमलनाथ, ‘आखिरकार न्याय की हुई जीत’

भोपाल| महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट से एक दिन पहले ही सीएम देवेंद्र फडणवीस और डिप्टी सीएम अजीत पवार ने इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद विरोधी दलों ने भाजपा पर निशाना साधना शुरू कर दिया है| सोशल मीडिया पर कई तरह के पोस्ट वायरल होने लगे हैं| इस मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी बीजेपी पर ट्वीट कर निशाना साधा है। सीएम ने कहा है कि सत्य परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं।सत्यमेव जयते। 

महाराष्ट्र में रोजाना बदलते सियासी हालात के बीच मंगलवार को बड़ा उलटफेर हुआ| जब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने यह कहते हुए इस्तीफा दे दिया कि अजीत पवार के इस्तीफे के बाद उनके पास बहुमत नहीं है। फ्लोर टेस्ट से पहले भाजपा का पीछे हटना सियासी गलियारे में चर्चा का विषय बन गया है| वहीं विरोधी दलों को भाजपा को घेरने का बड़ा मौक़ा मिल गया है| इस बीच सीएम कमलनाथ ने महाराष्ट्र के घटनाक्रम पर ट्वीट किया है| 

सीएम नाथ ने ट्वीट कर लिखा ‘आज संविधान दिवस है। संविधान के मूल्यों की रक्षा का सभी ज़िम्मेदार लोगों पर दारोमदार है। लोकतंत्र में जनता ही सबसे बड़ी ताक़त है , संविधान में निहित इस सच्चाई को समझने की आज महती आवश्यकता है।’ उन्होंने आगे लिखा ‘आज संविधान दिवस पर महाराष्ट्र मामले में आया सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला स्वागत योग्य है। आख़िरकार न्याय की जीत हुई। सत्य व लोकतंत्र की जीत सुनिश्चित हो चुकी है।लोकतंत्र का मखौल उड़ाने की कोशिश आख़िर नाकामयाब साबित हुई।सत्य परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं। सत्यमेव जयते’।

महाराष्ट्र के सियासी घटनाक्रम पर बोले कमलनाथ, 'आखिरकार न्याय की हुई जीत'