जबलपुर। वाजिद खान।

खबर जबलपुर से है जहाँ ट्रैफिक पुलिस की चैकिंग के दौरान एक युवक की हार्ट अटैक आने से मौत हो गई। युवक की मौत से स्थानीय लोगों का गुस्सा पुलिस पर फूट पड़ा। जिसके बाद लोग सड़क पर चक्काजाम कर दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए बैठ गए।

जानकारी के मुताबिक सचिन विश्वकर्मा ऑटो से अपना इलाज कराने अस्पताल जा रहा था जैसे ही ऑटो बादशाह हलवाई मंदिर के पास पहुंचता है वैसे ही वहाँ चैकिंग कर रही पुलिस ने ऑटो रोक लिया।इस दौरान ऑटो चालक ने पुलिस को बताया भी था कि सचिन की तबियत ज्यादा खराब है और उसे जाने दे पर पुलिस चलानी कार्यवाही के लिए अड़ी रही। पुलिस को 500 रु देने के लिए न सचिन के पास थे और न ही ऑटो चालक के पास लिहाजा ऑटो चालक चलानी के रु लेने चला गया और उसे आने ने देर हो गई इधर ऑटो में ही सचिन को लागतार सीने में दर्द हो रहा था लिहाजा उसकी ऑटो में ही तड़प तड़प कर मौत हो गई।

सचिन की मौत होने की खबर पाते ही स्थानीय लोगो ने हंगामा करते हुए सड़क पर चक्काजाम करते हुए दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग कर दी।सूचना मिलने के बाद asp अमृत मीना भी मौके पर पहुँच गए।स्थानीय लोगो का कहना है कि आज पुलिस का कृत्य यमराज जैसा था।एक व्यक्ति दर्द से तड़प रहा था पर पुलिस को उस पर रहम नही आया।वही asp अमृत मीना का कहना है कि शिकायतों की जांच की जाएगी और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।अभी परिजनों को 20 हजार रु की आर्थिक मदद दी जा रही है।