Patwari : पटवारियों के लैपटॉप खरीदी में सामने आया शिवराज सरकार का बड़ा फर्जीवाड़ा

बाकायदा विभागीय आदेश जारी कर निर्देश दिया गया है कि छठे जेनरेशन के प्रोसेसर वाला लैपटॉप खरीदा जाएगा। आश्चर्य की बात यह है कि इसकी अनुमानित कीमत सिर्फ 20 हजार है और सरकार इसके लिये 50 हजार का भुगतान करेगी।

SHIVRAJ SINGH

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट । मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सरकार (Government) द्वारा पटवारियों (Patwari) को लैपटॉप (Laptop) दिए जाने की योजना में गड़बड़ी की कांग्रेस (Congress) ने आशंका जताई है। कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा सरकार पुरानी तकनीक के लैपटॉप (Old Technology Laptops) पटवारी को बांटने जा रही है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा (Narendra Saluja Media Coordinator Of Pradesh Congress President Kamal Nath) ने सोमवार को जारी एक बयान में आरोप लगाया कि अब लैपटॉप के नाम पर शिवराज सरकार (Shivraj Government) बड़ा फर्जीवाड़ा करने जा रही है। इसकी खरीदी प्रक्रिया में जमकर अनियमितता है और इसको लेकर अजीबो-गरीब शर्त रखी गयी है। अब 10 साल पुराने प्रोसेसर का 19 हजार लैपटॉप खरीदेंगे जिसकी बाजार में अनुमानित कीमत करीब 20 हजार रुपए है। लेकिन सरकार इसके लिये करेगी 50 हजार रुपए का भुगतान।

सलूजा ने बताया कि प्रदेश के सभी पटवारियों को सरकार ने लैपटॉप देने की योजना बनाई है। जिसके तहत कुछ शतेर्ं भी तय की गई है। बाकायदा विभागीय आदेश जारी कर निर्देश दिया गया है कि छठे जेनरेशन के प्रोसेसर वाला लैपटॉप खरीदा जाएगा। आश्चर्य की बात यह है कि इसकी अनुमानित कीमत सिर्फ 20 हजार है और सरकार इसके लिये 50 हजार का भुगतान करेगी।

कांग्रेस का आरोप है कि वर्ष 2012-2013 में छठे जेनरेशन के लैपटॉप बनते थे। अब यह लैपटॉप कंपनियों ने बनाना बंद कर दिया है। इसके लिए 29 सितंबर को राजस्व विभाग ने आदेश जारी कर लैपटॉप खरीदी की शर्ते तय की है। जिसमें कहा गया है कि छठे जनरेशन के प्रोसेसर वाला ही लैपटाप खरीदा जाए जो कि अब बंद हो गए हैं।

 यह भी पढे…जूते खाएंगे पटवारी.. भाजपा नेता का वीडियो वायरल, कांग्रेस बोली- सब रखा जाएगा याद