मप्र के लोगों को दोहरा झटका, पेट्रोल 4.56 रुपए तक महंगा, डीजल के इतने बढे दाम

petrol-diesel-price-hike-after-union-budget--in-madhya-pradesh-

भोपाल। केंद्र की मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले बजट ने मध्य प्रदेश के लोगों का बजट गड़बड़ा दिया है| बजट में पेट्रोल डीजल के दाम बढाए जाने से मध्य प्रदेश में उपभोक्ताओं की जेब पर बड़ा असर हुआ है| केंद्र और राज्य सरकारों ने उपभोक्ताओं को डबल झटका देते हुए पेट्रोल के दाम में करीब 4 रुपए 56 पैसे और डीजल के दाम में करीब 4 रुपए 36 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी है।  

केंद्र के फैसले के तुरंत बाद मप्र सरकार ने भी पेट्रोल और डीजल पर दो-दो रुपए अतिरिक्त ड्यूटी लगा दी है। वाणिज्यिक कर विभाग ने देर रात स्पष्ट किया कि केंद्र और राज्य की ड्यूटी में वृद्धि के बाद प्रदेश में पेट्रोल के दाम में प्रति लीटर 4.56 रुपए और डीजल में 4.36 रुपए का इजाफा होगा। हालांकि विभाग ने स्पष्ट किया है कि शहरों के हिसाब से रेट अलग-अलग होंगे। भोपाल में पेट्रोल के अनुमानित दाम 73.61 रुपए से बढ़कर 78.09 रुपए, वहीं डीजल के 65.63 रुपए से बढ़कर 70.03 रुपए प्रति लीटर हो सकते हैं। बढ़े हुए दाम शनिवार सुबह छह बजे से लागू होंगे।

केंद्र सरकार ने शुक्रवार को बजट में पेट्रोल और डीजल पर 2-2 रुपए सेस और विशेष एक्साइज ड्यूटी लगाने की घोषणा की। इससे पेट्रोल-डीजल की कीमतें करीब ढाई रुपए बढ़ रही थीं। वहीं केंद्र के फैसले के बाद राज्य सरकार ने भी देर रात पेट्रोल-डीजल पर टैक्स बढ़ाने का फैसला किया और दोनों ईंधन पर दो रुपए प्रति लीटर अतिरिक्त शुल्क लगा दिया। राज्य सरकार का कहना है कि भारत सरकार ने केंद्रीय करों में मप्र का हिस्सा करीब 2677 करोड़ रुपए कम कर दिया है, इसी वजह से यह कदम उठाना पड़ा। राज्य सरकार को अतिरिक्त ड्यूटी लगाने से सालाना पेट्रोल-डीजल पर करीब 1400 से 1500 करोड़ रुपए अतिरिक्त मिलेंगे।