विदेश में बजा इंदौर का डंका, पीएम मोदी ने कही ये बात

Pravasi Bhartiya Sammelan

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। इंडोनेशिया की राजधानी बाली में आयोजित जी-20 समिट में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भारतीय समुदाय के लोगों ने जोरदार स्वागत किया। आज उन्होने वहां रहने वाले भारतीयों को संबोधित किया और इस दौरान उन्हें इंदौर आने का न्योता भी दिया। पीएम मोदी ने अगले साल इंदौर में होने वाले प्रवासी भारतीय सम्मेलन में आने के लिए सभी को आमंत्रित किया।

आज प्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने इंडोनेशिया और भारत के रिश्तों का महत्व बताया। उन्होने कहा कि अगर भारत में हिमालय है तो बाली में अगुंग पर्वत है। हमारे देश में गंगा नदी है तो बाली में तीर्थ गंगा है। इस स्थान से हमारा हजारों वर्षों का रिश्ता रहा है और यहां के भारतीयों ने कभी अपनी परंपरा को विस्मृत नहीं होने दिया। इसी के साथ पीएम मोदी ने स्थानीय लोगों को इंदौर आने का न्योता भी दिया। उन्होने इंदौर शहर की स्वच्छता की तारीफ करते हुए सभी को प्रवासी भारतीय सम्मेलन में आने के लिए आमंत्रित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘मैं आप सबको अगले प्रवासी भारतीय सम्मेलन के लिए निमंत्रण देता हूं। ये 9 जनवरी को यह कार्यक्रम होने जा रहा है और इस बार ये आयोजन मध्यप्रदेश के इंदौर में होगा। इंदौर वो है जो पिछले 5-6 साल हिंदुस्तान में स्वच्छ शहरों में प्रथम आ रहा है।’ उन्होने कहा कि आप इंदौर के प्रवासी भारतीय कार्यक्रम में जरूर जुड़िए। अपने निजी काम से भी आ रहे हैं तो तारीख उसके साथ एडजस्ट कीजिए।

यहां संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम अक्सर बातचीत में कहते हैं ‘It’s a small world’ और ये बाद भारत व इंडोनेशिया के संबंधों पर बिल्कुल सटीक बैठती है। उन्होने कहा कि हम इंडोनेशिया के साथ मजबूती से खड़े हैं और किसी भी चुनौतीपूर्ण स्थिति में हमेशा साथ हैं। साल 2018 में जब इंडोनेशिया में भूकंप आया था तो भारत ने तुरंत ऑपरेशन समुद्र मैत्री शुरु किया था। उन्होने कहा कि समंदर की विशाल लहरों ने भारत इंडोनेशिया के संबंधों को उमंग और जीवंतता से भरा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी में विश्व को भारत से अनेक उम्मीदें और अपेक्षाएं हैं और हम इसे जिम्मेदारी के रूप में देखते हैं।