कमलनाथ-सिंधिया की Z प्लस सुरक्षा ने बढ़ाई कांग्रेसियों की नाराजगी, पुलिस ने बेरिकेड्स लगाकर रोका

मुरैना।

सियासी हलचल के बीच शनिवार को पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और मुख्यमंत्री कमलनाथ  एक साथ मुरैना के जौरा से कांग्रेस विधायक बनवारीलाल शर्मा की नातिन की शादी में शिरकत करने पहुंचे।इन दोनों दिग्गज नेताओं का स्वागत करने के लिए भारी संख्या में समर्थक और स्थानीय नेता भी पहुंचे थे, लेकिन पुलिस ने किसी को उनसे मिलने नही दिया, जिसके चलते नेता नाराज हो गए। 

असल में,  पुलिस ने दोनों नेताओं के आने से पहले ही स्थानीय कांग्रेसियों को भोजन पंडाल में खड़ा कर बेरिकेड लगा दिए। नेताओं ने इसका विरोध किया तो पुलिस ने कहा कि जब सीएम और सिंधिया आ जाएंगे तो स्वागत करने के लिए जाने देंगे। लेकिन जेड प्लस सुरक्षा के बीच पुलिस ने इन स्थानीय नेताओं को सीएम और सिंधिया तक नहीं पहुंचने दिया, इससे स्थानीय कांग्रेसी नेता नाराज हो गए और बैरेकेट से ही दोनों नेताओं को देखते रहे।

खास बात ये है कि दोनों नेताओं का स्वागत करने के लिए श्योपुर से लेकर पाेरसा तक के कांग्रेस नेता स्वागत करने आए थे। लेकिन पुलिस ने उन्हें वही रोक दिया।इसके पहले करीब बीस मिनट तक सीएम कमलनाथ विमान से उतरकर हेलिकॉप्टर में ही सिंधिया का इंतजार करते रहे। सिंधिया के पहुंचने पर दोनों मुरैना के लिए उड़ गए। हेलिकॉप्टर में उनके साथ प्रभारी मंत्री लाखन सिंह व सुमावली से कांग्रेस विधायक ऐंदल सिंह कंषाना भी थे। दोनों साथ में ही हेलिकॉप्टर से ग्वालियर लौटे। कमल नाथ वहां से भोपाल लौट गए जबकि सिंधिया उसी हेलिकॉप्टर से नरवर चले गए। दोनों नेताओं के साथ- साथ जाने और कमल नाथ के इंतजार किए जाने की राजनीतिक हलकों में काफी चर्चा रही।