”चम्बल एक्सप्रेस वे” पर गर्माई सियासत, VD बोले- ‘उल्टा चोर कोतवाल को डांटे’

भोपाल।

कोरोना संकटकाल के बीच एमपी में सियासी पारा भी हाई हो चला है। उपचुनाव से पहले कांग्रेस और बीजेपी में चंबल एक्सप्रेस वे’ को लेकर श्रेय लेने की राजनीति शुरु हो गई है। शिवराज सरकार और सिंधिया पर हमलों के बाद अब बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के पलटवार किया है और कांग्रेस के सारे आरोपों को बेबुनियाद बताया है।वही उन्होंने ‘चंबल प्रोग्रेस वे’ को केंद्र सरकार की योजना करार दिया है।

दरअसल कांग्रेस और उनके नेता लगातार “चंबल एक्सप्रेस वे” पर शिवराज सरकार को घेर रहे हैं। इस पर अब बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि पिछली सरकार के कार्यकाल में योजना को सीमित किया गया था। जिसको सरकार के वापस सत्ता में आते ही शुरू किया गया है। वही वीडी ने उपचुनाव की तैयारी को लेकर कहा है कि जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी। तब कोरोना के खतरे के बीच सरकार आइफा में व्यस्त थी। अब वो सरकार हम पर आरोप लगा रही। ये तो उल्टा चोर कोतवाल को डांटें वाली स्थिति हो गयी है।

बता दें कि दो दिन पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj SIngh Chauhan) ने ग्वालियर-चंबल संभाग को बड़ा तोहफा देते हुए ‘चंबल एक्सप्रेस वे’ (Chambal Expressway) को फिर से बनाने का ऐलान किया था।लेकिन विपक्ष के द्वारा इसे चुनावी फैसला बताया गया था। जिसके बाद सिंधिया ने ट्वीट कर लिखा था कि “पूर्व की कांग्रेस सरकार ने चंबल के विकास, प्रगति और उन्नति को गति देने के लिए बनने वाले ‘चंबल एक्सप्रेस वे’ को ठंडे बस्ते में डाल दिया था, उसे आज मप्र सरकार ने ‘चंबल प्रागेस वे’ के नाम से तुरंत बनाने का निर्णय लिया है ।