ग्वालियर, अतुल सक्सेना

कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आ रहे हजारों कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा द्वारा आयोजित तीन दिवसीय सदस्यता ग्रहण समारोह की तैयारियां अंतिम चरण में पहुँच गई हैं। मुख्यमंत्री और मंत्रियों की मौजूदगी के चलते जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है वहीं सिंधिया समर्थकों में खासा उत्साह है। उन्होंने शहर को होर्डिंग बैनरों से पाट दिया है। शहर में तरह तरह के पोस्टर होर्डिंग बैनर लगे हैं लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा में है महल गेट पर लगाया गया होर्डिंग “टाइगर अभी जिंदा है”।

पिछले चुनाव में शिवराज सिंह चौहान द्वारा कहा गया फिर भाजपा में शामिल होने के बाद भोपाल के प्रथम आगमन पर पिछले दिनों कांग्रेस को चेतावनी देते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा कहा गया जुमला “टाइगर अभी जिंदा है” एक बार फिर चर्चा में हैं। भाजपा में शामिल होने के छः महीने बाद पहली बार अपने गृह नगर ग्वालियर आ रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया का उनके समर्थक जोरदार स्वागत करने वाले हैं। तीन दिवसीय सदस्यता ग्रहण समारोह में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा सहित प्रदेश सरकार के मंत्री और अन्य वरिष्ठ नेता शामिल होंगे। स्वागत सत्कार के लिए नेताओं में होड़ मची है। शहरी क्षेत्र की जिन दो विधानसभाओं ग्वालियर और ग्वालियर पूर्व में उपचुनाव होना हैं वहाँ भाजपा उम्मीदवार ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर और मुन्नालाल गोयल ने नेताओं के स्वागत मे कोई कसर नहीं छोड़ी है उधर सिंधिया समर्थकों ने भी शहर को स्वागत होर्डिंग , बैनर, पोस्टरों से पाट दिया है।

टाइगर अभी जिंदा है होर्डिंग चर्चा का विषय

शहर में स्वागत में लगे होर्डिंग, बैनर और पोस्टरों पर नेताओं ने अपने नेताओं की फोटो लगाकर उनका स्वागत, वंदन और अभिनंदन किया है लेकिन महल यानि जयविलास पैलेस के गेट पर सिंधिया की फोटो के साथ लगा “टाइगर अभी जिंदा है” होर्डिंग आने जाने वालों को प्रभावित कर रहा है। इसे सिंधिया समर्थक पुरुषोत्तम बनौरिया ने लगाया है। विश्लेषक इस होर्डिंग का मतलब निकाल रहे हैं कि जिस तरह से इस समय कांग्रेस का हर छोटा बाद नेता महाराज के खिलाफ कुछ भी बोल रहा है उसे नसीहत दी गई है कि शांत हो जाओ वरना समझ लो टाइगर अभी जिंदा है। बहरहाल दावा किया जा रहा है कि तीन दिनों 22,23 और 24 अगस्त को होने वाले सदस्यता ग्रहण समारोह में लगभग 10,000कांग्रेस कार्य कर्ता कांग्रेस छोड़कर भाजपा जॉइन करेंगे। और यदि ऐसा होता है तो आने वाले उपचुनाव बहुत रोचक हो जायेंगे।