DSP का पद त्याग कर राजनीति में आए थे प्रहलाद, अब मोदी कैबिनेट में होंगे शामिल

prahlad-patel-will-join-pm-modi-cabinet-

भोपाल। दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में इस बार मध्य प्रदेश के सांसदों का दबदबा रहेगा। प्रदेश के दमोह लोकसभा संसदीय क्षेत्र से सांसद प्रहलाद पटेल मोदी कैबिनेट का हिस्सा होंगे। वह दूसरी बार केंद्रीय मंत्री मंडल में शामिल होंगे। इससे पहले वह अटल बिहारी वायपेयी की सरकार में कोयला राज्य मंत्री रहे हैं। पटेल का राजनीति में आना किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है। दूरदर्शन को दिए एक इंटरव्यू में पटेल ने कहा था कि उन्होंने राज्य प्रशासनिक सेवा की परीक्षा पास की थी। जिसके बाद उनके पास डीएसपी बनने का मौका था। लेकिन उन्होंने पद और पैसे का मोह छोड़ जनता की सेवा करना का फैसला लिया। 

दरअसल, प्रहलाद पटेल ने वकालत की पढ़ाई की है। उन्होंने अपनी शिक्षा के दौरान ही राज्य प्रशासनिक सेवा पास की थी। जिसके बाद वह डीएसपी बन सकते थे। लेकिन नियति ने उनके लिए कुछ और सोचा था। भविष्य के गर्भ में उनका मंत्री बनना तय था। दूरदर्शन को दिए अपने इंटरव्यू में प्रहलाद ने कहा कि, ‘मैंने प्रदेश की पीएससी परीक्षा पास की थी। लेकिन मैं नौकरी में नहीं गया। उस समय परिस्थितियां अलग थीं हम लोगों पर मुकदमें लगते थे। राजनीतिक दस तरह की बातें होती थी। इसलिए मुझे लगता है आज वह परिस्थितियां नहीं हैं। इसलिए मुझे लगात है कि नौजवान अगर वह संस्कारवान है, वह समाज के बारे में सोचता है वह स्वलंबी हो गया है तो उसे पैसे के बारे में नहीं सोचना चाहिए। मैं अगर डीएसपी बन जाता तो एक प्रशासनिक अधिकारी बनता तो आज कहां पहुंच पाता। मैंने ऐसे समय में इस विचारधारा का हाथ पकड़ा जब मैं पार्षद का चुनाव लड़ने का नहीं सोच सकता था।’

गौरतलब है कि प्रहलाद पटेल प्रदेश के विरष्ठ नेताओं में शुमार हैं। उन्होंने बुंदलेखंड का बड़ा नेता माना जाता है। उनके छोटे भाई जालम सिंह पटेल भी शिवराज सरकार में मंत्री रह चुके हैं। गुरूवार को मोदी पीएम पद की शपथ लेंगे। उनके मंत्री मंडल में प्रहलाद पटेल भी शामिल होंगे। आज पटेल को पीएस आफिस से इस संबंध में फोन भी आया है।