PRE MONSOON: मौसम के बदले मिजाज, इन जिलों में झमाझम बारिश

pre-monsoon-rain-in-many-district-in-madhya-pradesh-

भोपाल।

मध्य प्रदेश में प्री-मानसून गतिविधियां शुरू हो गई हैं। गुरुवार के बाद आज शुक्रवार को प्रदेश के कई जिलों में झमाझम बारिश हुई और लोगों ने राहत की सांस ली। हालांकि आज सुबह से तेज धूप निकली हुई थी लेकिन दोपहर होते होते मौसम का मिजाज बदला और हवाएं चलने लगी। शुक्रवार को दोपहर में इंदौर, सतना, रीवा और भोपाल में तेज बारिश हुई।वहीं मौसम विभाग ने प्रदेश के अनेक इलाकों में 40 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं और कई जिलों में बारिश की संभावना जताई है।  मौसम में आ रहे इस बदलाव के पीछे अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान ‘वायु’ का प्रभाव माना जा रहा है।इससे कई राज्यों में बारिश के साथ धूल भरी आंधी चलने लगी है।

     वही गुरूवार को ग्वालियर चम्बल, छतरपुर, टीकमगढ़ और जबलपुर में मौसम का बदला मिजाज देखने को मिला, जहां तेज अंधी के साथ ही बारिश हुई। बारिश से लोगों को काफी हद तक गर्मी से राहत मिली है। भोपाल में 26 दिन बाद तापमान 40 डिग्री से नीचे आया । ऐसा 19 मई को हुआ था, उस दिन भी 39.9 डिग्री तापमान था। भीषण गर्मी और उमस के बीच ग्‍वालियर के खनियाधाना में गुरुवार को दोपहर करीब 2 बजे से अचानक आसमान में बादल छाने लगे तथा देखते-देखते जोरदार आंधी के बीच जोरदार बारिश हुई।

अगले 24  घंटे में मौसम का हाल

मौसम विभाग की माने तो आज से प्रदेश के अनेक स्थानों पर प्री-मानसून की गतिविधियों के बढ़ने के आसार है। छिंदवाड़ा, अनूपपूर, जबलपुर मंडला बालाघाट, नरसिंहपुर , सिवनी कटनी उमरिया शहडोल डिंडौरी होशंगाबाद बैतूल हरदा इन जिलों में गरज चमक के साथ बारिश और तेज आंधी चलने की संभावना जताई है। वही 40  से 50  की रफ्तार से हवा चल सकती है।इसके अलावा भोपाल, रायसेन, राजगढ़, विदिशा ,इंदौर, सीहोर, पन्ना सागर, टीकमगढ, दमोह, छतरपुर, रीवा, सतना सीधी सिंगरौली , उज्जैन, नीमच, रतलाम, शाजापुर, देवास, आगर, बुरहानपुर, खंडवा खरगोन, धार, गुना ग्वालियर, अशोकनगर आदि जिलों में कही कही बारिश की संभावना जताई जा रही है।

आईएमडी के मौसम वैज्ञानिकों की माने तो चक्रवाती तूफान वायु के कारण मानसून की गति प्रभावित हुई है। कई राज्यों में मानसून अब तय समय से देरी से पहुंचेगा। तूफान वायु ने भारत के पश्चिमी तट पर प्रभाव डाला है। जिस कारण तेज हवा के साथ कई इलाकों में भारी बारिश भी हुई। अब चक्रवात वायु ओमान की तरफ मुड़ चुका है।