VIDEO: महाराज के ‘रण’ में महारानी ने शुरू किया संवाद, चुनाव लड़ने के सवाल का दिया यह जवाब

priyadarshni-raje-scindia-visit-begin-in-jyotiraditya-parliamentry-

शिवपुरी। सिंधिया राजपरिवार की महारानी प्रियदर्शनी राजे सिंधिया लोकसभा चुनाव से पहले अपने पति ज्योतिरादित्य सिंधिया के संसदीय क्षेत्र में सक्रिय हो गई हैं|  प्रियदर्शनी राजे सिंधिया ने सोमवार से गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र के दौरे से इसकी शुरुआत कर दी है| वे गुना संसदीय क्षेत्र में 18 से 26 फरवरी तक रहेंगी और सिर्फ महिलाओं से संवाद करेंगी। प्रियदर्शनी राजे सिंधिया पहली बार इतना लंबा समय जनता के बीच बिताएंगी। प्रियदर्शनी सोमवार को शिवपुरी के दौरे पर आईं। इस दौरान उन्होंने शिवपुरी में महिलाओं से संवाद किया। इस संवाद के दौरान कई महिलाओं ने प्रियदर्शनी राजे सिंधिया से लोकसभा चुनाव लड़ने की मांग कर डाली। इस महिला संवाद में आईं कई महिलाओं का कहना था कि महारानी को गुना-शिवपुरी से चुनाव लड़ना चाहिए। क्योंकि एक महिला दूसरी महिला को अच्छे से समझती है। कई महिलाओं ने कहा कि गुना-शिवपुरी से प्रियदर्शनी राजे सिंधिया चुनाव लड़ें जबकि ग्वालियर संसदीय सीट से उनकी पति ज्योतिरादित्य सिंधिया चुनाव लड़ें।  इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते प्रियदर्शनी राजे सिंधिया ने कहा कि उनकी डिमांड अपनी जगह है लेकिन महाराज (ज्योतिरादित्य) आपके हैं और रहेंगे। वह इस क्षेत्र में दिल से काम कर रहे हैं। जब उनसे पूछा गया कि कई महिलाओं का कहना है कि आप गुना- शिवपुरी से लड़े और महाराज ग्वालियर संसदीय सीट से तो इस पर अपनी प्रतिक्रिया में प्रियदर्शनी राजे ने कहा कि महाराज में इतनी ऊर्जा है कि वह दोनों का प्रतिनिधित्व कर सकते हैं। 

दरअसल, लम्बे समय से प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया के राजनीति में आने के कयास लगाए जा रहे हैं| अपने पति के संससदीय क्षेत्र के दौरे को लेकर इन चर्चाओं को बल मिला| लेकिन सिंधिया समर्थकों ने इन कयासों से इंकार किया है| इन कयासों के बीच प्रियदर्शिनी ने अपना शुरू कर दिया है| संवाद के दौरान कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नि प्रियदर्शनी राजे सिंधिया ने महिला सम्मेलन में आईं महिलाओं से उनकी टेबिलों पर जाकर सीधी बात की। बातचीत में प्रियदर्शनी राजे सिंधिया ने महिलाओं से कहा कि वह आने वाले चुनाव में ज्यादा से ज्यादा संख्या में घरों से निकलकर मतदान करें। महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने की बात करते हुए प्रियदर्शनी ने कहा कि जब महिलाएं ज्यादा मतदान करने जाएंगी तो दिल्ली तक उनकी बात सुनी जाएगी। शिवपुरी में आयोजित इस सम्मेलन में बड़ी संख्या में महिलाओं ने भाग लिया। सम्मेलन के बाद पत्रकारों से चर्चा में प्रियदर्शनी राजे सिंधिया ने कहा कि उन्हें महिलाओं से संवाद कर अच्छा लगा। जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि यहां आईं कई महिलाओं ने गुना-शिवपुरी सीट से आपको चुनाव लड़ाने की मांग की है। इस पर अपनी प्रतिक्रिया में प्रियदर्शनी राजे सिंधिया ने कहा कि उनकी डिमांड अपनी जगह है लेकिन महाराज (ज्योतिरादित्य) आपके हैं और रहेंगे। वह इस क्षेत्र में दिल से काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह महिलाओं को यह संदेश देने आईं हैं कि वह ज्यादा से ज्यादा मतदान के लिए आगें आएं। पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह द्वारा यह कहे जाने पर कि नेताओं की पत्निओं को टिकट नहीं देना चाहिए। इस पर प्रियदर्शनी राजे सिंधिया ने कहा कि मैं अपनी बात कहने आईं हूं दूसरे की बात पर मुझे कुछ नहीं कहना। 

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी बहन प्रियंका गांधी के साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी है। इसको लेकर लखनऊ में एक रोड शो भी हो चुका है, जिसमें जिस तरह से भीड़ आई थी और कार्यकर्ताओ ने फीडबैक लिया उससे कांग्रेस उत्साहित है। यही कारण है कि सिंधिया इस बार सबसे अधिक समय लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में देंगे। इसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने अपनी पत्नी प्रियदर्शनी राजे सिंधिया को अपने संसदीय क्षेत्र में सक्रिय कर दिया है। पहले राउंड में महारानी क्षेत्र की महिलाओं से सीधा संवाद कर उनसे जुड़ेंगी और आगे चुनाव प्रचार के लिए तैयार होगी। यह तय है कि इस बार सिंधिया ज्यादा समय मध्य प्रदेश में नहीं दे पाएंगे, ऐसी स्थिति में उनकी पत्नी ही चुनाव की कमान संभालेंगी| हालाँकि पहले भी वह अपने पति के लिए प्रचार कर चुकी हैं|