Priyanka Gandhi बोलीं- “मोहब्बत मोहब्बत होती है, उसे माप नहीं सकते”

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश में विधानसभा 2022 चुनावों की तारीख भले अभी घोषित नहीं हुई हो, लेकिन चुनावी प्रचार की जमावट शुरू हो गई है। इन सबके बीच कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) खेतों में महिलाओं के बीच पहुंची और उन्होंने गुड़, जलेबी, परांठे और अचार का जमकर लुत्फ उठाया।

MP Board : माशिमं ने जारी किए आदेश, 25 अक्टूबर से शुरू होगी 10वीं-12वीं की विशेष परीक्षा

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने बाराबंकी में प्रतिज्ञा यात्रा शुरुआत की। ‘हम वचन निभाएंगे’ स्लोगन के साथ 12000 किलोमीटर की यह यात्रा जनता को कांग्रेस की 7 प्रतिज्ञाएं बताएगी। 32 साल से सत्ता से दूर कांग्रेस (Congress) को प्रियंका से बड़ी उम्मीद है कि वह कांग्रेस को सत्ता में वापस ला पाएंगी। प्रतिज्ञा यात्रा की शुरुआत के पहले प्रियंका बाराबंकी के रास्ते में पड़ने वाले तमरसेपुर गांव पहुंची और खेत में महिलाओं के बीच बैठ गईं। बातचीत का दौर शुरू हुआ और इसी बीच महिलाएं जलेबी, परांठे, अचार और गुड़ ले आईं।

फिर क्या था..प्रियंका गांधी को अपने हाथों से कौर खिलाने की होड़ शुरू हो गई। प्रियंका ने भी सभी महिलाओं की बात मानी और एक-एक करके सबके हाथ से भोजन का टुकड़ा लेकर खाया। हालांकि जब एक महिला उनको परांठा खिलाने लगी तो प्रियंका ने कहा कि ‘मेरे भाई ने कहा है कम खाया करो। मोटी हो रही हो।’ इस अवसर पर जब एक पत्रकार ने उनसे पूछा कि ‘आपको इतने प्रेम से यह महिलाएं भोजन करा रही हैं क्या यह वोट में तब्दील हो पाएगी!’ तो प्रियंका ने कहा ‘मोहब्बत मोहब्बत होती है, इसे मापा नहीं जा सकता।’

प्रियंका गांधी ने बाराबंकी में सात प्रतिज्ञाएं ली और नए नारे दिए ‘कोरूना की आर्थिक मार, परिवार को देंगे 25 हजार,20 लाख को सरकारी रोजगार ।”बिजली बिल सब का हाफ, कोरोना काल का बकाया साफ।’ कांग्रेस की सात प्रतिज्ञाओ मे प्रत्येक गांव में किसानों का पूरा कर्जा माफ, 40% महिलाओं को विधानसभा टिकट, छात्राओं को स्मार्टफोन और स्कूटी, गेहूं और धान का न्यूनतम मूल्य 2500 रूपये ,गन्ने का 400 रूपये, बिजली का बिल हाफ, जैसी घोषणाएं शामिल हैं।