पल्स पोलियो : 1 करोड़ से ज्यादा बच्चे पिएंगे दवा, CM बोले- एमपी में पनपने नहीं देंगे

इस पल्स पोलियो अभियान में को जन्म से 5 साल तक के 1 करोड़ 14 लाख बच्चों को पल्स पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इसके बाद  हेल्थ वर्कर घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो की दवा पिलाएंगे।

पल्स पोलियो

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने सीएम हाउस (CM House) पर बच्चों को पल्स पोलियो (Pulse Polio) की खुराक पिलाकर राज्यस्तरीय टीकाकरण अभियान (State Level Immunization Campaign) का स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी (Health Minister Prabhuram Chaudhary) के साथ शुभारंभ किया। आज 31 जनवरी से शुरु हुए इस पल्स पोलियो अभियान में को जन्म से 5 साल तक के 1 करोड़ 14 लाख बच्चों को पल्स पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इसके बाद  हेल्थ वर्कर घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो की दवा पिलाएंगे।

यह भी पढ़े… खुशखबरी : शिवराज सरकार का एक और बड़ा फैसला, निर्देश जारी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने कहा कि आज निवास पर बच्चों को पल्स पोलियो की खुराक पिलाकर राज्यस्तरीय टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया। यह प्रसन्नता की बात है कि हमारा प्रदेश और देश पोलियो से पूरी तरह मुक्त है। आप सबसे अपील है कि इस अभियान से जुड़कर इसे सफल बनायें और स्वस्थ प्रदेश व देश के निर्माण में योगदान दें। यह प्रसन्नता की बात है कि हमारा प्रदेश और देश पोलियो से पूरी तरह मुक्त है। हमें इस अभियान को सफल बनाने के साथ सदैव जागरुक भी रहना है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने कहा कि हमने पोलियो पर पूर्ण विजय प्राप्त की है। अब इसको पनपने नहीं देंगे। मैं समाज व सभी स्वयंसेवी संगठनों से भी अपील करता हूं कि वे इस अभियान से जुड़कर पोलियो को पूरी तरह से हमारे प्रदेश से बाहर करने में सहयोग करें। सबके प्रयास से ही इस ध्येय की सहज प्राप्ति संभव होगी।  मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि पोलियो को समाप्त करने के लिए 25 साल पहले जिन बच्चों को पल्स पोलियो की दो बूंद पिलाई गई थी, उन्हीं को ‘दो बूंद हर बार’ की बुलाऊ टीम का प्रमुख नियुक्त किया गया है। वे पोलियो को समाप्त करने के इस अभियान में सक्रिय रूप से जुटे हैं।

गौरतलब है कि 17 जनवरी को पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान रखा गया था, लेकिन कोरोना टीकाकरण (Corona vaccination) शुरू होने के कारण इसे टाल दिया गया था।अब रविवार 31 जनवरी से फिर 5 साल तक के 1 करोड़ 14 लाख बच्चों को पल्स पोलियो की दवा पिलाए जाने का अभियान शुरु किया गया है। पहले दिन पोलियो की दवा बूथ स्तर पर पिलाई जाएगी। इसके बाद दो दिन तक हेल्थ वर्कर (Health worker) घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो की दवा पिलाएंगे। रेलवे स्टेशन, बस स्टैंडों पर भी टीम तैनात की जाएगी।