राहुल गांधी का दावा ‘मध्य प्रदेश में बनेगी कांग्रेस की सरकार,’ बीजेपी ने कसा तंज

Rahul Gandhi on Madhya Pradesh Elections : राहुल गांधी ने दावा किया है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होने कहा है कि 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव को कांग्रेस स्वीप करेंगी। शनिवार को दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होने ये बात कही। इसे लेकर अब बीजेपी ने तंज कसते हुए कहा है कि राहुल गांधी भी केजरीवाल की भाषा बोल रहे हैं।

राहुल के दावे पर बीजेपी का तंज

राहुल गांधी ने कहा कि ‘मैं लिखकर दे देता हूं कि मध्य प्रदेश के चुनाव को कांग्रेस स्वीप करेगी। बीजेपी वहां दिखाई नहीं देगी। मैं आपको गारंटी देता हूं। कोई सवाल ही नहीं है इसे लेकर क्योंकि वहां सभी को पता है कि मध्य प्रदेश में टोटल अंडर करंट है, तूफान आया हुआ है वहां पर। हर व्यक्ति जानता है वहां की बीजेपी ने चोरी करके पैसे देकर सरकार बनाई है, इसलिए पूरा प्रदेश गुस्से में है।’ इस बयान को लेकर अब बीजेपी  ने कहा है कि राहुल जी भी अरविंद केजरीवाल की भाषा बोलने लगे हैं। बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुरेंद्र शर्मा ने कहा है कि ये राहुल गांधी के बड़बोल है और चुनाव के नतीजे सब साफ कर देंगे। उन्होने कहा कि प्रदेश में बीजेपी पूर्ण बहुमत से सरकार बनाएगी और राहुल गांधी तथा कांग्रेस के सारे दावे ध्वस्त होंगे। वहीं लक्ष्मण सिंह के बयान को लेकर सवाल पूछे जाने पर उन्होने कहा कि ‘आप लक्ष्मण सिंह जी से शर्त लगा लीजिए, बड़ी शर्त लगाइये..फायदा हो जाएगा आपका।’

दरअसल पिछले दिनों प्रदेश में इस तरह की खबरें जोरों पर थी कि कांग्रेस ने एक सर्वे कराया है जिसमें वो हारती नजर आ रही है। इस कथित सर्वे को लेकर लक्ष्मण सिंह ने सवाल किया था कि आखिर सर्वे में ऐसा नतीजा क्यों आ रहा है। वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने ऐसे किसी भी सर्वे की बात को सिरे से नकारते हुए कहा था कि ‘मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर मीडिया में कांग्रेस के एक कथित सर्वेक्षण का समाचार चल रहा है। कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश में ऐसा कोई सर्वेक्षण नहीं कराया है। इस तरह के समाचार भ्रामक और निराधार है।’ इसी बात पर राहुल गांधी ने पत्रकारों के सामने कहा कि लक्ष्मण सिंह से शर्त लगा लीजिए। बता दें कि शनिवार को राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों के सवालों के जवाब दिए और इस दौरान उन्होने देश की विदेश नीति पर भी सवाल उठाए। इसी के साथ चीन, सेना सहित कई मुद्दों पर उन्होने पत्रकारों के सवालों के जवाब दिए।