राहत की खबर : MP के 6 जिले हुए Corona Free, रिकवरी रेट की रफ़्तार बढ़ी

भोपाल।

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) लगातार कोरोना(corona) के निशाने पर बनी हुई है। यहां रोजाना 50 से 100 के बीच नए मामले सामने आ रहे हैं। MP में कोरोना के एक्टिव केस(active case) घटकर 2308 हो गए हैं। जबकि नए 182 केस पाए गए हैं। तो 244 मरीज स्वस्थ होकर घर गए हैं। प्रदेश का रिकवरी रेट 75.5 प्रतिशत हो गया है। जो कि देश के रिकवरी रेट(recovery rate) 53 प्रतिशत से काफी अधिक है। इसके अलावा प्रदेश के 6 जिले कोरोना संक्रमण से पूरी तरह मुक्त (Corona Free) हो गए हैं।

दरअसल मध्‍यप्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस घटकर 2308 हो गए हैं। जबकि नए 182 केस पाए गए हैं, तो 244 मरीज स्वस्थ होकर घर गए हैं। प्रदेश का रिकवरी रेट 75.5 प्रतिशत हो गया है। जो कि देश के रिकवरी रेट (53 प्रतिशत) से काफी अधिक है। यही नहीं प्रदेश में अभी तक 8388 कोरोना के मरीज स्वस्थ होकर घर गए हैं। हालांकि प्रदेश में कोविड-19 (COVID-19) से अब तक संक्रमित पाये गये लोगों की संख्या 11426 तक पहुंच गयी है।

MP में किए गए टेस्ट

संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं मध्य प्रदेश द्वारा जारी कोरोनावायरस मीडिया बुलिटिन (Corona Bulletin) के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 7103 सैंपल की जांच की गई। 6091 नेगेटिव और 182 पॉजिटिव निकले। इसी के साथ प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 11244 हो गई है।6 मौतों के साथ कुल मृत्यु के साथ अब 486 लोगों की कोरोना के कारण जान जा चुकी हैं।244 डिस्चार्ज किये गया हैं। उन्हें मिलाकर अब तक स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या 8388 और अस्पतालों में इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 3038 है।

MP में डबलिंग रेट 43.2 बढ़ा

मध्य प्रदेश में कोरोना केस की डबलिंग रेट अब 43.2 दिन हो गई है. जबकि यही रेट राष्ट्रीय स्तर पर 19.6 दिन है। इसी प्रकार प्रदेश की कोरोना वृद्धि दर 1.62 प्रतिशत रह गई है। जबकि देश मे 3.59 प्रतिशत है।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जिलों के प्रभारी अधिकारियों से उनके जिले में कॉटन केस की जानकारी भी ली है।

कोरोना संक्रमण में एमपी देश में अब 8वें स्थान पर आ गया है। भाेपाल में गुरुवार काे काेराेना के 58 नए मरीज मिले। जबकि 4 मरीजों की मौत हो गई। 28 मरीज ठीक हुए। नए संक्रमिताें में 16 मरीज ऐशबाग स्थित महामाई का बाग के एक ही मकान के हैं। इनमें एक माह की मासूम भी है। 12 पाॅजिटिव अलग-अलग सरकारी दफ्तराें में काम करने वाले कर्मचारी हैं।