किसानों को राहत: अब 25 मई तक होगी चने की खरीदी, कृषि मंत्री बोले- लापरवाही बर्दाश्त नहीं

कृषि मंत्री कमल पटेल ने खरीफ-2021 की फसल समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि सोयाबीन बीज के वितरण में किसी प्रकार की लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

कृषि मंत्री कमल पटेल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel)  ने किसानों (Farmers) को बड़ी राहत दी है। कमल पटेल ने वर्तमान हालातों  और मंडियों में काम-काज की स्थिति को देखते हुए चने की खरीदी को 25 मई तक बढ़ाने के आदेश दिए है।अब समर्थन मूल्य (MSP) पर चने की खरीदी 25 मई 2021 तक की जा सकेगी।

यह भी पढ़े…सीएम शिवराज सिंह बोले -20 जिलों में 10% से कम पॉजिटिविटी, 5 में 200 से ज्यादा केस

दरअसल, आज सोमवार को कृषि मंत्री कमल पटेल ने खरीफ-2021 की फसल समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि सोयाबीन बीज के वितरण में किसी प्रकार की लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। कृषि विभाग के अधिकारियो को निर्देशित किया कि प्राइवेट संस्थाएँ, जो सोयाबीन बीज उत्पादक हैं या वितरक हैं, सर्वप्रथम सोयाबीन का बीज मध्यप्रदेश के किसानों को प्रदाय करना सुनिश्चित करें।

कृषि मंत्री कमल पटेल  ने कहा कि यदि कहीं भी इस आदेश का उल्लंघन किया गया, तो सख्त कार्रवाई की जायेगी। श्री पटेल ने बीज निगम और कृषि विभाग (Agriculture Department) के उच्च अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे नकली औऱ अमानक सोयाबीन के बीजों को जप्त करने के लिये छापामारी अभियान पूरे प्रदेश में चलायें। साथ ही सोयाबीन के बीजों की टेगिंग और कालाबाज़ारी पर कार्यवाही कर अवगत करायें।

यह भी पढ़े.. सीएम के बयान का असर, मध्य प्रदेश के विभिन्न जिलों में बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

बता दे कि मध्यप्रदेश को सोयाबीन स्टेट (Soybean state) कहा जाता है और लगभग 60 से 62 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में इसकी बोनी की जाती है, जो कि देश की कुल सोयाबीन बोनी का 55 प्रतिशत है।