VIDEO: मंत्री की प्रेस कॉन्फ्रेंस में हंगामा, पुलिसकर्मी और कांग्रेस नेता में धक्कामुक्की

ruckus-IN-Kamal-Nath's-minister's-press-conference-indore-

इंदौर।

मध्यप्रदेश के इंदौर में प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा की प्रेस कॉन्फ्रेंस में उस वक्त हंगामा हो गया जब कांग्रेस नेता पुलिस से उलझ पड़े। विवाद इतना बढ़ा कि कांग्रेस नेता और पुलिस के बीच हाथापाई हो गई। जैसे-तैसे करके मामला शांत किया गया। बताया जा रहा है कि प्रेस कॉन्फ्रेंस में अंदर जाने को लेकर विवाद हुआ था। इस दौरान वहां मौजूद किसी शख्स ने वीडियो बना लिया जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 

दरअसल मंत्री सज्जन सिंह वर्मा की हॉल के अंदर प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे। हॉल के बाहर सुरक्षा में पुलिसकर्मी तैनात थे। इस दौरान कांग्रेस नेता सनी राजपाल हॉल में जाने लगे जिन्हें पुलिस ने रोकने की कोशिश की ,इस बात से कांग्रेस नेता सनी इतने नाराज हो गए कि पुलिस से धक्का-मुक्की शुरु कर दी और  जर्बदस्ती हॉल में प्रवेश किया। विवाद इतना बढ़ा कि पुलिस और कांग्रेस नेता के बीच हाथापाई शुरु हो गई। इसके बाद सीएसपी ज्योति उमठ के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ। 

इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरु हुई और वर्मा ने कहा कि  कमलनाथ सरकार को 6 माह हुए है। इन 6 महीनों में कमलनाथ सरकार ने अपने सभी वचनों के लिए काम किया है।भोपाल 6 लेन बनाने के लिए 500 करोड़ रुपये आरक्षित कर दिए तथा भूमि अधिग्रहण के लिए एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी को नियुक्त कर दिया है, जिससे भू अधिग्रहण का काम आसान हो जाएगा। यातायात समस्या के लिए जल्दी ही समस्या का निराकरण किया जाएगा।

वही मेट्रो को लेकर बोले कि मेट्रो के लिए पीडब्ल्यूडी और नगर निगम के अधिकारियों ने निरीक्षण किया है। इसके रेडिसन चौराहा, रोबोट चौराहा, बंगाली चौराहा और मूसाखेड़ी चौराहा सहित 5 ब्रिज स्वीकृत है। जिसके जल्दी टेंडर होंगे। तेजाजी नगर चौराहा के लिए 6 लेन का भी जल्दी टेंडर कर दिए जाएंगे। इसके लिए अधिकारियो से चर्चा हो चुकी है। सभी ब्रिज के लिए अफसरों को निर्देश दिए है कि जल्दी रास्ता साफ कर देवे ताकि हम टेंडर जारी कर सके।मुझे सरकार ने यही जिम्मेदारी दी थी जो मैंने पुरा कर दिया है।

इसके अलावा बिजली कटौती को लेकर कहा  कि यह समय मेन्टेन्स का है और इस समय हर साल बिजली कटौती होती ही है फिर हवा- आंधी का समय भी रहता है जिससे समस्या हो रही है जिसका जल्द निकारण हो जाएगा।साथ ही तबादलो को लेकर कहा कि जो अधिकारी 15 वर्षो से जमे है और खूब मलाई काटी अब हम उन्हें हटाकर मैदानी मेहनत करने वाले अफसरों को लाकर अच्छा काम करवाया जा रहा है।