Sahara india : कांग्रेस नेता के आंदोलन के बाद पुलिस के सामने सहारा ने किया जल्द पैसा लौटाने का वादा

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर जिले में लगभग सहारा (Sahara India) द्वारा तीन लाख निवेशकों के लगभग सात सौ करोड़ रुपए वापस मिलने की संभावना बनती नजर आ रही है। दरअसल कांग्रेस के आंदोलन के बाद सहारा के अधिकारियों ने पुलिस के सामने जल्द पैसा वापस करने का भरोसा दिलाया है।

MP News: इन अधिकारी-कर्मचारी के लिए शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, समिति गठित

कांग्रेस नेता सौरभ शर्मा नाटी सहारा इंडिया की क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी द्वारा छले गए लाखों निवेशकों के लिए रॉबिन हुड साबित हो रहे हैं। दरअसल पूरे जबलपुर जिले की बात की जाए तो लगभग तीन लाख निवेशकों का लगभग सात सौ करोड़ रुपया सहारा की विभिन्न स्कीमों में निवेश है, जो परिपक्वता अवधि पूरी होने के बाद भी सहारा इंडिया वापस नहीं लौटा रहा है। इसे लेकर समय-समय पर कांग्रेस नेता सौरभ शर्मा आंदोलन करते रहे हैं। अभी 20 अक्टूबर को ही उन्होंने सैकड़ों निवेशकों के साथ कैंडल मार्च निकाला था और 25 अक्टूबर को हजारों निवेशकों के साथ सम्मेलन कर कलेक्ट्रेट कार्यालय में ज्ञापन सौंपा था। सौरभ के इसी जुझारू नेतृत्व का परिणाम है कि 27 अक्टूबर को जबलपुर के पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खंडेल ने जबलपुर क्राइम ब्रांच सभागार में सहारा इंडिया के अधिकारियों और कांग्रेस नेताओं को बुलाया और सहारा के अधिकारियों को साफ निर्देश दिए गए कि जल्द से जल्द सहारा के निवेशकों के पैसे का भुगतान करें नहीं तो कड़ी कार्रवाई होगी।

कांग्रेस नेता सौरभ शर्मा ने भी चेतावनी दी कि यदि सहारा ने जल्द पैसा नहीं वापस लौट आया तो निवेशकों के माध्यम से कांग्रेस इस को आंदोलन और तेज करेगी। इस पर सहारा के अधिकारियों ने भरोसा दिलाया कि वे जल्द से जल्द निवेशकों का पैसा वापस लौटाने की कोशिश करेंगे। सौरभ शर्मा सहारा के उन 151 गरीब निवेशकों को दीपावली पर व्यक्तिगत रूप से दीपावली सामग्री व उपहार भी देने जा रहे हैं ताकि वे दीपावली मना सकें।