Sahara India : सहारा के सताए भोपाल में जुटे, सरकार के खिलाफ ली ये शपथ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राजधानी स्थिति सहारा इंडिया (Sahara India) के दफ्तर सहारा कुंज में अपने भुगतान के लिए पिछले दो दिन से लोग जमा हैं। मध्य प्रदेश के दूरदराज जिलों से आए हुए इन समस्त सहारा पीड़ितों ने आज जनांदोलन न्याय मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह सोलंकी के नेतृत्व में शपथ ली और कहा कि अगर सीएम शिवराज सिंह चौरान उनकी मदद नहीं करेंगे तो वो बीजेपी को वोट नहीं देंगे।

Sahara India : सहारा के सताए भोपाल में जुटे, सरकार के खिलाफ ली ये शपथ

एमपी नगर स्थिति ऑफिस के बाहर इन्होने शपथ लेते हुए कहा कि ‘मध्यप्रदेश के समस्त सहारा इंडिया पीड़ित आज 16 नवंबर को भोपाल के सहारा कुंज ऑफिस में शपथ लेते हैं कि अगर दो महीने में मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार हम सहारा पीड़ितों की मांग नहीं मानती है और सहारा इंडिया से हमारा भुगतान वापिस दिलाने में मदद नहीं करती है, सहारा इंडिया के दोषी अधिकारियों को गिरफ्तार नहीं करती है तो हम समस्त सहारा पीड़ित, हमारे परिवार के लोग, हमारे मिलने जुलने वाले लोग जिंदगी भर भारतीय जनता पार्टी को वोट नहीं देंगे।’ इस तरह उन्होने सीधे सीधे शिवराज सरकार को चेतावनी दे दी है कि अगर जल्द ही उन्हें इंसाफ नहीं दिलाया जाता है तो अगले साल होने वाले चुनाव में वो बीजेपी का विरोध करेंगे।

बता दें कि इससे पहले भी जगह जगह सहारा इंडिया को लेकर विरोध होता रहा है। सितंबर में सहारा के सुप्रीमो सुब्रत रॉय (Sahara Chief Subrata Roy) के खिलाफ ग्वालियर जिले के डबरा में आत्महत्या के लिए प्रेरित करने (abetment to suicide) का मामला दर्ज किया गया था। सहारा पैराबैंकिंग में फंसे पैसों को लेकर निवेशक लगातार परेशान हैं। भोपाल में भी बड़ी संख्या में निवेशक लगातार पुलिस के चक्कर लगाते रहे हैं और पुलिस की सुस्ती के बाद उन्होंने प्रोस्पेक्ट लीगल कंपनी का सहारा भी लिया था। जगह जगह सहारा इंडिया के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, पुलिस में शिकायत और अदालती मामले जारी है और एक बार फिर पीड़ितों ने न्याय के लिए सरकार को दो महीने का अल्टीमेटम दे दिया है।