MP: भाजपा में घमासान, आमने सामने सांसद और विधायक

Satna-MP-imposed-serious-allegations-on-his-own-party-leaders

भोपाल/सतना।  चौथी बार सतना से सांसद चुने गए गणेश सिंह ने अपनी ही पार्टी के नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए है। सिंह ने पार्टी के कुछ लोगों पर उनके खिलाफ काम करने का आरोप लगाया है और कहा है कि मैं उन गद्दारों को भली भांति जानता हूँ जिन्होंने मुंझे हराने का काम किया है। ऐसे लोगो से मैं ये कहना चाहता हूँ कि मेरे पास न आये अगर आएंगे तो मुझसे कुछ गलत शब्द निकल जायेगा। वही उनके इस बयान पर बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने उनके इस बयान की शिकायत आलाकमान से करने की बात कही है।अब सांसद के इस बयान का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वही पार्टी में हडकंप मच गया है। दोनों नेताओं की बयानबाजी से एक बार फिर बीजेपी की अंतरकलह सामने आई है। हालांकि अभी तक किसी बड़े नेता का बयान सामने नही आया है।

दरअसल, जीत के बाद रविवार को सतना सांसद गणेश सिंह चित्रकूट विधानसभा क्षेत्र की जनता का धन्यवाद और आभार प्रकट करने पहुंचे थे। जहां उन्होंने  अपनी ही पार्टी के नेताओं को आड़े हाथों लिया और पार्टी के साथ गद्दारी करने वाले नेताओ और कार्यकर्ताओं को चेताया। सिंह ने कहा मेरे खिलाफ काम और पार्टी के साथ गद्दारी करनें वाले कभी मेरे सामने नही आए । अगर सामने आए तो मेरे मुंह से कुछ निगल जाएगा, आपका अपमान हो जाएगा।उन्होंने कहा कि हर पोलिंग में किस नेता ने कांग्रेस पार्टी के लिए काम किया और कौन सी जातिवाद का झंडा लिए मैदान में था । इसकी पहचान हो चुकी है।मैं उन गद्दारों को भली भांति जानता हूँ जिन्होंने मुंझे हराने का काम किया है। ऐसे लोगो से मैं ये कहना चाहता हूँ कि मेरे पास न आये अगर आयेगे तो मुझसे कुछ गलत शब्द निकल जायेगा। सांसद का ये बयान अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।वीडियो ने राजनैतिक गलियारों में हलचल पैदा कर दी है।

विधायक का पलटवार- भूलें नहीं यह पीएम की जीत है 

सांसद के आरोपों पर मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने पलटवार किया है और कहा है कि गणेश सिंह अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं । गणेश सिंह भूल चुके हैं कि उनको मिली जीत उनकी लोकप्रियता नहीं बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीत है। इस दौरान उन्होंने विधानसभा चुनाव में गणेश सिंह पर बीजेपी के प्रत्याशियों के खिलाफ काम करने का आरोप का भी आरोप लगाया। वही उन्होंने सिंह को सलाह देते हुए कहा कि अपनी लोकप्रियता पर ज्यादा उछाल ना मारिए और अपनी भाषा में लगाम लगाइए। मैं अपने धंधे व्यापार के लिए राजनीति नहीं करता हूं आप से राजनीति का हिसाब मांगा जाएगा तो बोलती बंद हो जाएगी।वही उन्होंने कहा कि वे इस बयान की आलाकमान से शिकायत करेंगें।