सिंधिया का फिर छलका दर्द! बोले- ‘आसान नहीं होता कुर्सी को ठुकराना’

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी का प्रदेश अध्यक्ष कौन होगा, इसको लेकर सस्पेंस बरकरार है| पिछले लंबे समय से इस दौड़ में ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रबल दावेदार कहा जा रहा है उनके समर्थक भी उन्हें पीसीसी चीफ के लिए लॉबिंग करते नजर आते है| इन्हीं सब सियासी उठापटक के बीच भोपाल में सेवादल के कार्यक्रम में पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी एक ऐसा बयान दिया जिसके सियासी मायने निकाले जा रहे है|

दरअसल, सिंधिया ने सेवादल के कार्यक्रम में उनके सीएम न बन पाने का दर्द फिर छलका| उन्होंने कहा कि उन्हें जनसेवा के रास्ते पर चलते हुए 18 साल हो चुके है, आज कुर्सी पाने के लिए नेता कूटनीति अपनाते है, कुर्सी को ठुकराना बेहद मुश्किल होता है, मगर सत्य परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं| उन्होंने कहा मुझे कभी कुर्सी का लालच नहीं रहा|  हालांकि सिंधिया से उनके इस बयान के मायने पूछे गए तो उन्होंने साफ तौर पर कहा कि वो कभी कुर्सी के पीछे नहीं भागे और ना ही वो आगे ऐसा करेंगे| उन्होंने कहा दिसम्बर में भी आप लोगों ने मेरा आचरण देखा होगा| वहीं राज्यसभा जाने पर भी उन्होंने कहा कि वे किसी कुर्सी के लिए राजनीति नहीं करते| 

वही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने फ़िल्म छपाक को लेकर कहा कि वो भी फिल्म छपाक देखेंगे| उन्होंने दीपिका पादुकोण को बधाई देते हुए कहा है कि उन्होंने सत्य का साथ दिया है| इस माहौल में अपनी आवाज उठाना आसान नहीं है|