रावत की बैठक में आपस में भिड़े सिंधिया और दिग्गी समर्थक, जमकर चले जूते चप्पल

scindia-and-digviajy-singh-workers-fight-in-morena

मुरैना। कांग्रेस में गुटबाजी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। पार्टी नेता मंच से एकजुटता का दावा करते हैं लेकिन उनके दावों की कलई खुल जाती है। रविवार को मुरैना लोकसभा संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस उम्मीदवार रामनिवास रावत बैठक करने पहुंचे थे। उनकी बैठक में कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। बहस इतनी बढ़ी की पुलिस के सामने ही कार्यकर्ताओं में जूते चल गए। इस भिड़ंत में दो कार्यकर्ताओं के घायल होने की सूचना भी मिली है। 

दरअसल, रामनिवास रावत को कांग्रेस ने मुरैना से प्रत्याशी घोषित किया है। वह रविवार को स्थानीय जनप्रतिनिधि के अलावा, नगरपालिका, जिला पंचायत अध्यक्ष और अन्य पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे थे। इस दौरान पूर्व नगरपालिका उपाध्यक्ष रिंकू मावई एवं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मनोज पाल यादव में प्रचार को लेकर बहस हो गई। दोनों में हॉट टॉक इतनी बढ़ी कि मामला मारपीट तक पहुंच गया। मनोज पाल यादव ने बैठक का बहिष्कार कर दिया और वह गांधी मेरिज होम में चल रही बैठक से बाहर निकल आए। इसके बाद यादव और रिंकू मावई के समर्थक आपस में बिड़ गए। कार्यकर्ता के बीच जमकर गालीगलौच के साथ जूते चप्पल क चले। ये तमाशा वहां मौजूद पुलिस के सामने चलता रहा। मामला बढ़ता देख पुलिस बीच बचाव करने उतरी और कार्यकर्ताओं को खदेड़ा। 

गौरतलब है कि रावत उम्मीदवार घोषित होने के बाद पहली बार यहां बैठक करने पहुंचे थे। लेकिन सिंधिया और दिग्गी के समर्थक के बीच यहां जमकर भिड़ंत हो गई। सूत्रों के मुताबिक दोनों गुटोंं में प्रचार को लेकर बहस हुई जो झगड़े में बदल गई। पुलिस ने बाद में कार्यकर्ताओं को अलग अलग कर खदेड़ा।